Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रेन (रेल) यात्रा
11-30-2018, 01:17 AM,
#21
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
सुबह का वक़्त था, इस कारण वहाँ रेलवे स्टेशन के रास्ते के नज़दीक की फुटपाथ पर कुछ भिखारी टाइप लोग, कोई नंगे, कोई चड्ढी में सो रहे थे, उस तरफ जब करीना की नजर जाती है और इतने सारे बदसूरत लोगों को ऐसे नंगे, फटे कपड़े में सोते देख करीना को घिनौना लगता हैं। वो जैसे तैसे अपनी 36” साइज की गाण्ड मटकाते हुये रेलवे स्टेशन की ओर बढ़ती है।

सुबह 6:40 बजे सोमवार

करीना जब रास्ते से रेलवे स्टेशन की ओर बढ़ रही थी, तब उसके लगाए हुये परफ्यूम की खुकबू और पैर में पहनी चाँदी की पायल से आती छन्न-छन्न आवाज से रास्ते के फुटपाथ पर सोए हुये भिखारियों में से देबू की नींद खुल जाती है, देबू एक 59 साल का बूढ़ा है जो दिन भार रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर केले बेचता है, उसके पास औरतों से बात करने की तमीज ही नहीं है, पिछले साल ही वो एक बूढ़ी 50 साल की औरत पर रेप अटेम्पट करने के लिये 3 महीने के लिए जले में भी गया था।

और उस बूढ़े के शागिर्द जो उसके दोनों तरफ सोए हुये थे, उनमें से एक जो बालसुधार गृह से पिछले महीने ही भागकर यहाँ आया था, उसका नाम है मंगेश, जिसकी उमर है 12 साल, और दूसरा जिसकी उमर 40 साल है, जो लोकल ट्रेल में चढ़कर लोगों की पाकेट मारता है, और कीमती चीजें भी चुराता है, उसका नाम करीम है जो देबू का दूर का रिश्तेदार है।

करीना आगे बढ़ चुकी थी और पीछे देबू फुटपाथ पर उठकर बैठ जाता है और करीना को देखकर बोलता है- “ऐसी मस्त हरे भरे बदन वाली खुशबूदार बाम्ब तो मैंने पहली बार देखीं है, क्या मस्त गाण्ड मटका रही है, मजा आई गवा वाहह…”

बेबो तो बड़े अचंभे से रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग को देखकर, बिल्डिंग के बड़े दरवाजे से वो अंदर जाती है। एक बोलीवुड एक्ट्रेस पहली बार अकेली किसी ऐसे स्थान पर आई है, जहाँ लोगों की भीड़ हर रोज होती है। करीना बहुत आड्वेंचरस फील कर रही थी। किसी छोटी बच्ची की तरह करीना रेलवे ट्रैक से आ और जा रही ट्रेन्स को देखकर उत्तेजित हो रही थी। एक आज़ाद पक्षी की तरह करीना उस रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर जाने के लिए आगे बढ़ती है। लेकिन उस भोली करीना को पता नहीं है कि इस जगह, गोगा जैसे हजारों भेड़िए हैं, जो उसकी मासूमियत का गलत फ़ायदा उठा सकते हैं।

करीना बैग और पर्स पकड़े रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म पर पहुँचकर गोगा को देखने इधर-उधर देखने लगती है, कि तभी उसकी नजर बेंच पर बैठे गोगा पर जाती है, वो चलते-चलते गोगा की तरफ, एक बोलीवुड एक्ट्रेस अकेली, एक अंधेरे की तरफ अंजाने में बढ़ रही थी, और उसके आसपास कुछ लोग उसके बदन के हर हिस्से को देखकर आहें भर रहे अपने भाजी, फलों के, एट्सेटरा ठेलों को, प्लेटफार्म पर सजा रहे थे जो उनका रोज का ही काम है। करीना के गाल शरम से लाल थे, क्योंकि ऐरे-गैरे लोगों की नजर करीना को घूर रही थी, लेकिन करीना उन सबको नज़रअंदाज करके गोगा की तरफ आगे बढ़ी जाती है।

गोगा बेंच पर बैठा मन ही मन- “कब आएगी रांड़, अब तो 6:45 भी बज चुके है, और मैंने किसी ट्रेन की टिकेट भी नहीं निकाली…” कि तभी पीछे से आती पायल की खनक, जो धीरे-धीरे नज़दीक आ रही थी, उस तरफ जाती है, और वो पीछे मुड़कर देखता है तो सामने, एक खूबसूरत गोरे बदन वाली, और चलते वक़्त उसकी बड़ी-बड़ी 36डी की चुचियाँ ऊपर-नीचे उछल रही थी, आ रही थी।

वो करीना थी लेकिन नकाब में गोगा पहचान ना सका। जब करीना गोगा के सामने आ जाती है तब गोगा को समझ में आता है कि ये हाट औरत और कोई नहीं करीना कपूर खान है, और गोगा का खुला मुँह बंद हो जाता है, और वो करीना को नज़दीक पाकर जरा हड़बड़ाते हुये बोलता है- “एयाया, आ गाई मेडमजी, कितना टाइम लगा दिया, मैं तो बोर ही हो गया था, अकेले बैठकर यहाँ…”

करीना- “सारी गोगा, मैं भी क्या करती, कल रात मुझ पर मुशीबतों का पहाड़ जो गिरा था…”

गोगा- “कैसी मुशीबत?”

करीना- “वो जाने दो, अब ट्रेन कब आएगी?”

गोगा- “हाँ, मुझे भी वही पूछना था कि तूने उतरप्रदेश की कौन सी सिटी के लिये ट्रेन बुक की है?”

करीना गोगा के पास बेंच पर बैठते हुये बोलती है- “बोला था ना उतरप्रदेश की टिकेट है…”

गोगा- “जरा मोबाइल दे तेरा, तू तो बेवकूफ़ है साली, गँवार…”

बेंच के सामने ही एक प्लेटफार्म क्लीनर आदमी प्लेटफार्म की सफाई कर रहा था, और करीना की मांसल जांघों को साड़ी में देखकर लार टपका रहा था, तभी जब गोगा करीना को गँवार और बेवकूफ़ बोलता है तब वो करीना की तरफ देखकर हँसने लगता है।

और जब करीना उस आदमी को देखती है तब वो अपने हँसने पर कंट्रोल करके अपना काम करने में लग जाता है।

करीना- “देखो गोगा, तुम ऐसी भाषा इस्तेमाल मत करो यहाँ मेरे ऊपर, लोग हँस रहे है मेरे ऊपर…”

गोगा- “तुम हो ही इसी लायक, तेरा मोबाइल दे मुझे, चेक करने दे कि कौन सी सिटी की ट्रेन बुक किया है…”

करीना को अब जरा-जरा समझ में आता है कि गोगा के कहने का मतलब क्या है? और वो झट से बोलती है- “मोबाइल की कोई जरूरत नहीं ईडियट, सिरोंन किस सिटी में है, पता है ना वो सिटी…”

गोगा- “हाँ तो पटना में ना… तो सीधा-सीधा बोलना था ना फिर, फोकट में खाली टाइम वेस्ट किया मेरा, चल टिकेट काउन्टर पे टिकेट लेने…”
-  - 
Reply

11-30-2018, 01:17 AM,
#22
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
करीना बेंच से उठकर गोगा के साथ टिकेट काउन्टर पे जाते-जाते मन ही मन बोलती है- “थैंक गोड कि मैंने नक़ाब पहना है, कितनी थर्ड क्लास भाषा इस्तेमाल करता है गोगा? छीछि, मैं तो ऐसे लोगों को अपनी जूती भी ना बनाऊँ। पर वो भी क्या करे, वो भी तो अपनी बीमारी की मजबूरी में ही मुझे ये सब गुस्से में कह रहा है। मैंने ही तो उससे बोला था कि ‘मैं उसकी बीमारी को समझती हूँ’, कुछ घंटे ही तो मैं उसके साथ रहूंगी, उसके बाद मैं अपने रास्ते और वो अपने रास्ते चले जाएँगे, इसलिये मुझे उसकी बातों का बुरा नहीं मानना चाहिए…”

गोगा करीना को लेकर टिकेट काउन्टर पर पहुँच जाता है, और काउन्टर खखड़की को खटखट करता है। टिकेट काउन्टर औरत नाक की आवाज सुनकर गोगा की तरफ देखकर बोलती है- “हाँ सर, मैं आपकी क्या मदद कर सकती हूँ?”

गोगा- “ये जो मेडमजी हैं उन्हें टिकेट लेना है, उन्होंने आनलाइन टिकेट खरीदा है…”


टिकेट काउन्टर औरत करीना से ई-मेल अड्रेस लेकर आनलाइन बुकिंग चेक करके करीना को टिकेट देती है, और बोलती है- “आपका नाम तो मेरी पसंदीदा एक्ट्रेस के ऊपर है, और फोटो में भी उन्हीं की तरह दिखती हैं आप…”

करीना काउन्टर औरत की बात को काटते हुये टिकेट लेते हुये बोलती है- “तुम भी ना… अच्छा मजाक कर लेती हो…” और करीना उस टिकेट काउन्टर औरत को देखकर चुप रहने का इशारा करती है, और हड़बड़ाते हुये उस टिकेट काउन्टर से टिकेट लेकर बेंच पर बैठने चली जाती है।

गोगा टिकेट काउन्टर औरत से पूछता है- “मुझे भी पटना का एक ट्रेन टिकेट चाहिए…”

टिकेट काउन्टर औरत- “सर, पटना की ट्रेन पूरी तरह से बुक है, कोई जगह नहीं बची…”

गोगा ये बात सुनकर पूरा हिल जाता है, और बोलता है- “क्या? एक भी नहीं है?”

टिकेट काउन्टर औरत- “नहीं है, सारी सर, लेकिन आप कल आइए…”

गोगा मन ही मन- “ये पनौती गलत टाइम पर लगी है। करीना के साथ जाकर ही मैं अपने प्लान को अंजाम दे सकता हूँ। हे भगवान् कोई रास्ता दिखाओ…”

तभी गोगा के दिमाग में एक प्लान आता है। उसे शाहरुख खान जब ‘0’ था तो उसने डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र किया था, तो उसे लगता है कि ये इतिहास वो दोहरा सकता है। गोगा अपना मायूस काला कलूटा चेहरा नीचे झुकाए, करीना जहाँ बैठी थी वहाँ जाकर करीना के बाजू में बेंच पर बैठ जाता है।

गोगा को ऐसे मायूस बैठे देखकर करीना बोलती है- “क्या हुआ? इतना मायूस क्यों हो तुम?”

गोगा- “पटना की एक भी टिकेट नहीं है- “

करीना- “ओह नो… अब क्या मुझे अकेले ही जाना होगा?”

गोगा करीना की तरफ देखकर बोलता है- “नहीं, टिकेट नहीं मिला तो क्या हुआ, लेकिन मैं तेरे साथ सफ़र करूँगा वो भी डब्ल्यू॰टी॰…”

करीना- “डब्ल्यू॰टी॰ मतलब?”

गोगा- “विदाउट टिकेट…”

करीना- “ये लीगल है?”

गोगा- “नहीं, लेकिन तुम ज़्यादा फिकर मत करो, मैं संभाल लूँगा…”

करीना- “अगर पुलिस ने पकड़ लिया तो?”

गोगा मन ही मन- “पुलिस का ही तो डर है, अगर पोमलस ने पकड़ लिया, तो डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र के जुर्म में जेल चला जाऊँगा, और ये रंडी मेरे हाथ से छूट जाएगी, लेकिन रिस्क तो उठाना ही होगा…”

गोगा- “तू क्यों इतना टेंशन लेती है, मैं सभाल लूँगा…”

अब 7:00 भी बज चुके थे और पटना जाने वाली ट्रेन अभी तक आई नहीं थी, गोगा तो फुल टेंशन में बेंच पर बैठा, डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र की प्लानिंग कर रहा था।

करीना बेंच पर बैठे-बैठे बोर हो जाती है, और गोगा को बोलती है- “मैं जरा सफ़र के लिये पानी की बोतल खरीदकर और टिकेट काउन्टर से पटना की ट्रेन की पूछताछ करके आई, मेरे पर्स और बैग के ऊपर नजर रखना, यही रख रही हूँ बेंच पर…”

गोगा- “हाँ, जाओ, लेकिन जल्दी वापपस आना, मैं जरा यहीं बैकर ट्रेन का इंतजार करता हूँ…”

करीना- “हाँ, ठीक है…” और करीना पहले बेंच से उठकर अपनी गाण्ड को मटकाते हुये चलते-चलते टिकेट काउन्टर पे जाती है, और टिकेट काउन्टर पे बोलती है- “हेलो…”

टिकेट काउन्टर औरत- “मेम आपको मैंने पहले ही पहचान लिया था आपका आई॰डी देखकर कि आप करीना हैं, मुझे पता था कि आप इस फ़ैन को मिलने आएँगी…”

करीना- “ओह्ह… जरा धीरे बोलो, यहाँ कोई मुझे पहचानता नहीं है, इस नकाब की वजह से…”

टिकेट काउन्टर औरत- “लेकिन आप ऐसे छुपते हुये, वो भी ट्रेन से क्यों सफ़र कर रही हैं?”

करीना- “वो लंबी कहानी है, अभी तो तुम्हें ये बात किसी को नहीं बतानी है कि मैं यहाँ ऐसे ट्रेन से सफ़र करने वाली हूँ। अगर किसी को भी पता चला कि मैं करीना यहाँ अकेली ट्रेन से सफ़र कर रही हूँ तो तुम्हें अंदाज़ा होगा ही कि क्या हो सकता है? क्योंकि तुम एक औरत हो, और एक औरत ही औरत का दर्द समझ सकती है…”

टिकेट काउन्टर औरत- “मैं समझ सकती हूँ मेडमजी, लेकिन मुझे आपका आटोग्राफ चाहिए…” और काउन्टर औरत करीना को पेन और कागज देती है।

करीना- “तुम भी ना…” और करीना कागज पर अपना साइन करती है, और टिकेट काउन्टर औरत को साइन किया हुआ कागज देते हुये बोलती है- “बाइ दा वे, तुम्हारा नाम क्या है?”

टिकेट काउन्टर औरत करीना का साइन किया हुआ कागज लेते हुये बोलती है- “थैंक यू मेम, लेकिन आपके साथ वो अधेड़ काला बूढ़ा आदमी कौन था, जो आपके साथ था यहाँ?”

करीना- “वो ना… वो मेरा गाइड है, चलो बहुत सवाल पूछ लिये तुमने, मैं अब जाती हूँ… और ये सीक्रेट किसी को ना बताना…” और करीना वहाँ से जाती है। करीना ने कागज देते वक़्त 5000 रूपये भी उस काउन्टर औरत को अपना मुँह बंद रखने के लिये दिए थे।
……………………………………..

सुबह के 7:04 बज चुके हैं और सूरज के प्रकाश में करीना का गोरा बदन रेड साड़ी और स्लीवलेश ब्लाउज में बेहद ही आकर्षक लग रहा था। करीना जैसे-जैसे अपनी गाण्ड मटकाते प्लेटफार्म पे चलती आगे बढ़ रही थी, वैसे-वैसे जो सूट-बूट में लोग थे वो भी और जो फटे पुराने कपड़े पहने वहाँ भीख माँग रहे थे और कुछ जो ठेले पर कुछ ना कुछ बेच रहे थे वो सब लोग, करीना के गिराए गोरे जिस्म को देखकर लार टपका रहे थे। करीना की साड़ी का पल्लू जैसे-तैसे करीना के 36” साइज के दोनों दूध के टेंकर्स को ना के बराबर कवर कर रहा था, और भोली करीना अपनी 36” साइज की बड़ी-बड़ी चुचियों का अंजाने में सामूहिक प्रदर्शन कर रही थी। चलते वक्त करीना की चुचियाँ ऊपर-नीचे उछल रही थीं, और ऐसा कामुक नजरा देखकर मुंबई रेलवे स्टेशन करीना की वजह से गरम हो गया था।

करीना को भी अब ऐसे फ्रीयली, वो भी रेलवे स्टेशन जैसे स्थान पर चलना अच्छा लगता है, क्योंकि करीना के फैंस जब भी उसे देखते कहीं भी, तो करीना भीड़ के कारण कभी कार में क़ैद हो जाती, तो कभी किसी के रूम में, तो कभी होटेल में। लेकिन आज करीना, खुली हवा में साँस ले रही थी, प्लेटफार्म के दूसरे छोर पर करीना को बड़ी सी दुकान दिखती है, तो वो उस दुकान की ओर पानी की बोतल लेने चल पड़ती हैं।
-  - 
Reply
11-30-2018, 01:18 AM,
#23
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
तभी एक प्लेटफार्म के बीचोबीच कुछ फलवाले उसे पुकारते हैं- “ओह्ह… मेडमजी यहाँ, यहाँ आइए, सस्ते फल हैं…”

करीना उस आवाज की ओर सामने देखती है तो कुछ दो फलवाले प्लेटफार्म के बीचोबीच, और करीना से 100 फीट दूर थे। करीना सोचती है- “मुझे सफ़र के लिये फल भी लेने चाहिए, इतना बुला रहे हैं ये फलवाले तो यहीं से फल ले लेती हूँ, अगर फल ताजे और अच्छे हों तो?”

फलवालों को तो सिर्फ़ करीना के गोरे हरे-भरे बदन का नज़दीक से दर्शन करना था। दोनों फलवालों के, ऐसी मस्त जवानी देखकर होश उड़े हुये थे, और जैसे-जैसे करीना अपनी मांसल मस्त जांघों को और 36डी ब्रा में क़ैद बड़ी-बड़ी चुचियों को चलते वक़्त ऊपर-नीचे उछलते और हिलते और अपनी ओर बढ़ते देखकर दोनों फलवालों के लण्ड खड़े थे। सुबह का वक़्त था तो ज़्यादा भीड़ नहीं थी। करीना के जिस्म का दर्शन लेने के लिये, वो दोनों फलवालों कि उमर 54 साल के आसपास ही थी, दोनों के दोनों बेवड़े, रात होते ही सब एक साथ बैठकर किसी भी खाली जगह पे दारू पीते, तो कभी रंडियों को पैसे देकार चुफ़ाई करते।

फलवालों का बायोडाटा

1॰ केले बेचने वाला, जिसका नाम कालू है, उसकी उमर 55 साल, रंग सावला, दिखने में बदसूरत, उँचाई 5’2”, मोटा पेट, और खाशियत, खूबसूरत औरतों को देखकर उसका 10 इंच बड़ा लण्ड हर वक्त खड़ा रहता है, वो इस वक़्त सफेद फटी पुरानी धोती में हैं।

2॰ संतरे और सेब बेचने वाला काजी हैं, उसकी उमर 53 साल, रंग काला, दिखने में बदसूरत, उँचाई 5’7”, तगड़ा शरीर, और खाशियत, जब भी वो रंडी बाजार में जाता तो सब रंडियाँ डरकर चुप हो जाती हैं, क्योंकि उसके लण्ड की साइज 13” इंच है, और वो जब किसी बाजारू रंडी को चोदता तो उस रंडी के पहले से ही फटे छेदों की वाट लगा डालता अपने लण्ड की मार से।

करीना का गदराया जिस्म अपने नज़दीक आते देखकर दोनों फलवालों का मुँह खुला का खुला था, कि तभी कालू करीना को देखकर बोलता है- “अबे काजी, क्या माल है देख, जी तो कर रहा है साली का रेप ही कर दूँ…”

काजी भी करीना की तरफ देखकर बोलता है- “अगर यहाँ कोई नहीं होता तो साली को नंगा करके बलात्कर ही कर डालता यहीं…”

और उन दोनों फलवालों केो ऐसे अपनी तरफ देखता देखकर करीना जरा सी शरमा जाती है और मन ही मन बोलती है- “ओह्ह… कैसे घूर रहे हैं मुझे दोनों, लगता है मैं इस साड़ी में बहुत खूबसूरत लग रही हूँ, इसलिये ये दोनों गरीब मुझे घूर रहे हैं…” करीना उन फलवालों का ऐसे उसके बदन को घूरना लाइटली लेती है, और उसकी खूबसूरती के लिए एक कमेंट मानती है।

कुछ चलने के बाद करीना उन दोनों के ठेलों के पास पहुँच जाती है, और उन दोनों की तरफ देखकर बोलती है- “भैया, ये सब फल ताजे हैं क्या?”

ये सुनते ही दोनों फलवाले जो करीना के जिस्म को देखकर अपनी हवस भरी दुनियाँ में खोए थे, वो जाग जाते हैं, लेकिन करीना जैसी भरे हुये जिस्म की औरत को अपने नज़दीक देखकर दोनों के लण्ड पूरे खड़े थे, वो दोनों प्लेटफार्म पर नीचे बैठे अपनी फलों की टोकरियों को सभाले थे। काजी की आँखें करीना के उन्नत बड़े-बड़े दोनों दूध के टेंकर्स पे टिकी थीं और वो करीना को बोलता है- “मेडमजी, आपके संतरे बहुत ताजे हैं…”

काजी को ऐसे अपनी चुचियों को देखकर इस तरह का गंदा कमेंट मारते देखकर करीना गुस्से में बोलती है- “बेशर्म, क्या बोल रहे हो तुम?”

काजी करीना की गुस्से भरी आवाज सुनकर होश में आता है और अपनी नजर करीना की चुचियों से हटाकर ऊपर करीना के चेहरे पर करते हुये बोलता है- “मेडमजी मैंने बोला कि ये संतरे ताजे हैं, जो मैं बेच रहा हूँ यहाँ…”

करीना मन ही मन- “लगता है मैंने ही गलत सुना होगा…”

करीना- “हाँ, ठीक है…” और कालू की तरफ देखकर बोलती है- “ये केले कितने में दोगे?”

और कालू भी एक हाई-फ़ाई खूबसूरत औरत को अपने सामने खड़ी देखकर उसकी मांसल जांघों को घूरते हुये बोलता है- “मेडमजी, ये केले ₹40 का आधा दर्जन दूँगा…”

करीना- “क्या बेवकूफ़ बना रहे हो मुझे, मुझे पता है फलों के रेट कितने चल रहे हैं समझे, आधा दर्जन 20 रूपये में देना है तो दो नहीं तो मैं केले नहीं लूँगी यहाँ से…” कहकर करीना यहाँ अपने आपको एक स्मार्ट कामन औरत दिखाना चाहती है, जो यहाँ फल लेने आई है।

उन दोनों के यहाँ जब भी कोई औरत फल लेने आती, तो वो दोनों उस औरत को किसी ना किसी तरह सिडयूस और अब्यूस कर ही लेते। ये तो उन दोनों की खाशियत थी, तो इससे करीना जो यहाँ नकाब पहनकर पहली बार आई है तो वो कैसे इन दोनों से बचती।

कालू काजी की ओर देखता है और शैतानी स्माइल देता है फिर करीना की ओर देखकर बोलता है- “मेडमजी, केले की साइज तो देखो जरा, ठीक से देखो, अगर आप इस केले को मुँह में लेंगी तो बार-बार यहीं से केले रोज लेंगी…”

करीना कालू की बात सुनकर जरा परेशान और गुस्सा हो जाती है- “क्या बके जा रहे हो तुम?”

कालू- “मतलब आप खाकर तो देखो केला…”

करीना- “नहीं, अभी नहीं, मेरी ट्रेन है…” और करीना किसी कामन औरत की तरह केलों को देखने नीचे झुक जाती है।

और उस झुकने के कारण करीना की बड़ी-बड़ी चुचियाँ जो ब्लाउज में क़ैद थी, वो नीचे ब्लाउज में किसी बड़े आम की तरह लटक रही थी, और इन लटकती चुचियों को देखकर काजी और कालू एक दूसरे की ओर देखते हैं, और स्माइल करते हैं।



उसी वक़्त देबू और उसके शागिर्द प्लेटफार्म पे धन्धा करने आ जाते हैं। देबू ने केले की टोकरी अपने सर पर ले रखी थी, और वो जिस जगह केले बेचता था प्लेटफार्म पे उसी जगह की ओर वो अपने शागिर्द के साथ चले जा रहा था। मतलब काजी और कालू के ठेले से 3-4 फीट बाजू में ही, लेकिन जब देबू उस जगह की ओर जा रहा था, तभी उसे वही औरत दिखती है, जिसकी खुकबू और पायल की खनक से उसकी आज नींद खुली थी। वो उस औरत को काजी और कालू के ठेले पर फल लेने के लिये ऐसे नीचे झुका हुआ देखकर बोलता है- “क्या गाण्ड है, क्या माल है…”

करीम देबू की बात सुनकर बोलता है- “क्या हुआ? कहाँ है माल?”

देबू- “अरे अंधे, सामने देख…”

करीम को भी वो नजारा दिखता है और वो बोलता है- “गाण्ड तो मस्त है देबू भाई, लेकिन हाथ में नहीं आएगी अपने…”

देबू- “हाथ नहीं आई तो क्या हुआ, छेड़ तो सकते हैं ना…”

और करीम और देबू मंगेश की ओर देखकर हँसने लगते है जिसकी उम्र 12 साल है, मंगेश जो की 12 साल का नाबालिग है, तो इस कारण करीम और देबू उसे कुछ भी ऐसा वैसा करने के लिये कहते। उसी वजह से दो महीने पहले एक औरत को छेड़ने के जुर्म में मंगेश को पुलिस ने बालसुधार गृह भी भेजा था, वो नाबालिग था, इस कारण उसपर कोई कानूनी दफाएँ ज़्यादा नहीं लगती, और इसका देबू बहुत अच्छी तरह इस्तेमाल करता है।

देबू हँसते हुये बोलता है- “चल मंगेश, अब तेरा काम यहाँ से चालू होता है, इस बार काम करने पर तुझे दो केले ज़्यादा मिलेंगे…”

मंगेश- “क्या काम है काका, जल्दी बताइए…”

करीम को कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि देबू के दिमाग में चल क्या रहा है?

देबू- “मंगेश, वो तुझे गाण्ड झुकाए औरत दिख रही है ना जो फल देख रही है?”

मंगेश- “हाँ, तो?”

देबू- “उसकी गाण्ड पर 4 थप्पड़ मार के भाग आगे, फिर मैं तुझे 4 केले दूँगा, बोल मंजूर है?”

मंगेश जो कि बहुत छोटा था, तो उसे ये घिनौना काम ठीक लगा और वो बोला- “इतना सा ही काम है ना? लो अभी जाता हूँ… लेकिन बाद में केले देना भूलना मत चाचा…”

देबू अपने एक हाथ से टोकरी और दूसरे हाथ से अपना लण्ड मसलते हुये बोलता है- “अरे हाँ, नहीं भूलूँगा जा, तू अभी जा जल्दी…”

मंगेश जरा सा डर तो रहा था लेकिन अपने पेट के खातिर नीचे झुकी हुई फल देख रही करीना की तरफ जाने लगता है।

करीम- “क्या भाई, बच्चे को कुछ भी करने को बोलते हो…”

देबू- “तू चुप बैठ, और आगे क्या होता है देख…”
-  - 
Reply
11-30-2018, 01:19 AM,
#24
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
कुछ ही देर में मंगेश करीना की मोटी गाण्ड के पीछे खड़ा हो जा ता हैं, और अपने एक हाथ को थूक लगाता है, और दोनों हाथ एक दूसरे से रगड़ते हुये गरम करता है, और वहाँ करीना नीचे झुके हुये केले संतरे देख रही थी, और मंगेश करीना की गाण्ड की मोटी गोरी फांकों पर ठप्पड़ मारना शुरू करता है। ये सब इतनी जल्दी हुआ कि करीना को कुछ रिएक्ट करने का मौका ही नहीं मिला, और मंगेश 1-2-3-4 करके 4 थप्पड़ करीना की मोटी गाण्ड पर लगा देता है।

गाण्ड पर थप्पड़ों की आवाज प्लेटफार्म पर गूँज उठती हैं। इस कारण शरम और दर्द से करीना की चीख निकलती है- “अह्ह, मेरी *****…” और वो सीधी खड़ी होकर पीछे मुड़ रही होती ही है कि मंगेश वहाँ से भाग जाता है।

करीना भागते लड़के को देखकर गुस्से और दर्द से चिल्लाई- “ओह्ह… कमीना, कोई उस लड़के को पकड़ो…”

उधर जिस मर्द ने भी ये थप्पड़ कांड देखा उसका लण्ड खड़ा हो गया था। देबू तो बड़ी गौर से देख रहा था, मंगेश जब थप्पड़ मार रहा था करीना की गाण्ड पर। तब करीना की गाण्ड की फांके थप्पड़ से हिल रही थीं, ये देखकर तो देबू के मुँह से आवाज निकलती है- “आअह्ह… मंगेश ने तो उसकी गाण्ड लाल कर दी, करीम भाई…” और जैसे कुछ हुआ ही ना हो वैसे, देबू करीम के साथ उसकी रोज की फल लगाने की जगह पर बढ़ जाता है।

करीना को चीखता और पीछे उस लड़के को करीना की गाण्ड पर थप्पड़ मारते हुये जब काजी और कल्लू देख रहे थे, तब उनकी आँखें फटी की फटी रह गई थीं।

करीना जब अपनी थप्पड़ से दर्द कर रही गाण्ड पीछ मुड़कर हाथ से सहला रही होती है तब उसकी नजर पीछे आ जा रहे लोगों पर जाती है, जो अंदर ही अंदर उसे गाण्ड सहलाता देखकर हँस रहे थे। करीना उन लोगों को गुस्से से पूछती है- “वो बेशर्म बच्चा तुम लोगों में से किसका था? सीधा-सीधा बताओ नहीं तो मैं पुलिस में जाउन्गी…”

तभी टोकरी सर पर लिये देबू करीना के पास से अपनी फल बेचने की जगह पर जा रहा होता है तब वो करीना की गुस्से भरी आवाज सुन लेता है, और वो अपनी जगह पर करीना के सामने से जाते हुये बोलता है- “मेडमजी, वो मेरे साथ ही रहता है, आप इतना गुस्सा क्यों हो रही है लोगों पर?”

करीना गुस्से से देबू की तरफ देखकर बोलती है- “आपको क्या दिखा नहीं कि उस लड़के ने अभी क्या किया? अंधे हैं क्या?”

देबू अपनी जगह पर पहुँच जाता है और काजी से 3 फीट दूर अपनी केले की टोकरी अपने सामने रखकर खुद बैठते हुये बोलता है- “हाँ… देखा ना… तो क्या हुआ, वो तो एक छोटे बच्चे की शरारत थी…”

करीम जो कि देबू के पास ही बैठा था, वो धीरे से देबू के कान में बोलता है- “मरवाओगे क्या चाचा, क्या बोले जा रहे हो?”

देबू करीम की बात को अनदेखा करके करीना को बोलता है- “मंगेश ने जो किया वो देखा मैंने…”

करीना गुस्से में- “तो उसे अभी के अभी यहाँ लाइए मेरे सामने, मुझे उससे बात करनी है…”

देबू- “क्या मेडमजी, आप इतनी सी बात को कितना खींच रही हैं…”

करीना- “क्या? ये तुम्हें छोटी बात लग रही है? निहायती घटिया इंसान हो…”

देबू- “आआऽऽ ज़्यादा बोल रही है तू। तू ही तो इस से्सी साड़ी और ब्लाउज में, अपने दो बड़े-बड़े आम दिखा रही है, अपनी मोटी गाण्ड दिखा रही है, तो किसी के भी मन में तुझे छूने के लिये लालच तो आएगा ही, और मंगेश ने तो सिर्फ़ थप्पड़ मारा तेरी गाण्ड पर हाथ से, लेकिन हम होते तो कुछ और ही मार रहे होते समझी…”

और ये बात सुनकर काजी और कालू जो करीना के सामने ही थे वो अपनी हँसी कंट्रोल नहीं कर पाते और हँसने लगते हैं।
और काजी और कालू को ऐसे अपने ऊपर हँसता देखकर करीना आग बाबूला हो जाती है और कालू के ठेले को लात मारती है।

ये देखकर काजी और हँसने लगता है, और कल्लू करीना की इस हरकत से उसे घूरते हुये बोलता है- “अबे साली रन्डी, ये जो चर्बी है ना, वो अपने घर पर दिखा समझी, हरामजादी बड़े बाप की रंडी औलाद…”

करीना से ऐसे उसकी लाइफ में किसी ने भी बात नहीं की, लेकिन आज इस जगह, कुछ फलवालों ने उसको जलील किया था।

तभी दूर खड़ा रेलवे हवलदार ये चल रहा झगड़ा दूर से देखता है, और वो दौड़ते हुये उन फलवालों के पास आता है, और कहता है- “के छल्ले काय रे? कषाला मेडमजी को परेशान कर रहे हो?”

करीना झट से बोलती है- “अच्छा हुआ आप यहाँ आ गये, इन बदतमीज़ लोगों को अभी यहाँ से जेल ले जाइए, इन्होंने मुझे गंदी-गंदी गालियाँ दी और, इनके एक साथी ने मुझे गलत जगह मारा…”

हवलदार पहले करीना के बदन को नीचे से ऊपर तक देखते हुये बोलता है- “मेडमजी, आपने क्या इनके खिलाफ शिकायत लिखवाई है? अगर लिखवाई है तो मैं इन लोगों को अभी पकड़ सकता हूँ…”

करीना- “नहीं लिखवाई है शिकायत…”

हवलदार- “तो फिर शिकायत लिखवाइए, फिर पोलीस इन्हें गिरफ्तार करेगी…”

करीना मन ही मन- “ये जगह तो गंदी है ही, और यहाँ के लोग भी गंदे हैं, छीछी, अब अगर शिकायत इनके खिलाफ करूँगी तो मैं बोलीवुड स्टार हूँ ये सबको पता चल ही जाएगा, और साथ ही साथ मुझे जो सिरोंन में जाना है वो भी कैंसिल हो जायेगा, इससे अच्छा है कि इन कमीनों को ठीक से देखकर याद रखती हूँ, फिर शो हो जाने के बाद इनको चक्की पीसने जेल भेज दूँगी, लेकिन मुझे अभी अपने गुस्से पर काबू रखना चाहिए…”

करीना फलवालों को गुस्से से देखकर हवलदार को बोलती है- “हाँ… मैं शिकायत लिखवाऊँगी इनके खिलाफ, लेकिन अभी मेरी ट्रेन आने वाली है तो बाद में शिकायत पुलिस स्टेशन जाकर लिखवाऊँगी, लेकिन आप जरा इन्हें समझा दीजिएगा कि औरतों से ठीक से बात करें…”

फिर करीना वहाँ से आगे दुकान पर जाकर पानी की बोतल लेकर वापपस गोगा की तरफ बढ़ती हुई मन ही मन- “कितने गंदे लोग हैं, मुझे एक कामन औरत समझकर अगर इन लोगों ने मुझसे ऐसा सलूक किया, तो मैंने अगर मेरा नकाब निकाला तो मेरे प्राइवेट अंगों को जो घूर रहे है वो तो मुझे, एवव… इससे आगे तो मुझे सोचना ही नहीं…”

तभी स्पीकर पर अनाउसमेंट होती है- “मुंबई से पटना जाने वाली ट्रेन आ चुकी है, धन्यवाद…” ऐसी अनाउसमेंट 2-3 बार आती है।

करीना मन ही मन- “हे भगवान, ट्रेन आ गई…” और करीना गोगा जहाँ बैठा था उस जगह पहुँच जाती है, लेकिन गोगा बेंच पर नहीं था, और करीना का बैग भी नहीं था वहाँ। करीना मन ही मन- “अब ये कहाँ गया मेरा बैग लेकर, ओह्ह नो…”

फिर पीछे से आवाज आती है- “अबे कमीनी, मैं तुझे कितना ढूँढ रहा था, और तुम यहाँ ऐसे खड़ी हो…”

करीना पीछे आवाज की ओर मुड़ती है तो वो गोगा था, जो उसका बैग लिये खड़ा था।


करीना गोगा को देखकर बोलती है- “उफ़फ्फ़… मैं तुम्हें ही ढूँढ रही थी गोगा…”

गोगा- “वो जाने दो, तू अब चल जल्दी, ट्रेन भी आ गई है पटना जाने वाली…” और करीना और गोगा ट्रेन की तरफ बढ़ते हैं।

करीना- “क्या तुमने टिकेट निकाला?”

गोगा- “नहीं, अब तू चुप बैठ, मैं डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र करूँगा, एसी एकानमी में, अगर किसी को भी पता चला कि मैं डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र करूँगा तो सब गड़बड़ हो जायेगी, और तूने तो साली फर्स्ट क्लास में टिकेट बुक की होगी…”

तभी ट्रेन का टी॰टी॰ई॰ जिसका नाम शकील है वो ट्रेन से बाहर आकर जो पटना जाने वाले हैं उनका टिकेट चेक कर रहा था कि तभी उसे नकाब पहने करीना दिखती है जो पटना की ट्रेन की ओर ही आ रही होती है। शकील करीना को देखते-देखते मन ही मन बोलता है- “क्या मस्त माल है, इतनी बड़ी-बड़ी चुचियाँ और इतनी से्सी फिगर तो मैं पहली बार इस रेलवे स्टेशन पर देख रहा हूँ… मजा आई गवा…”

और करीना शकील टी॰टी॰ई॰ के पास से ट्रेन में जाने ही वाली थी कि शकील ने रोक लिया और टिकेट दिखाने को कहा- “ओ मेडमजी, कहाँ जा रही हैं, अपने नौकर के साथ? यहाँ आइए और अपना टिकेट दिखाईए…”
-  - 
Reply
11-30-2018, 01:19 AM,
#25
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
गोगा जरा गुस्सा तो हो गया, क्योंकि उसे टी॰टी॰ई॰ ने नौकर कहकर पुकारा था।

करीना और गोगा टी॰टी॰ई॰ के पास जाते हैं और करीना अपना टिकेट टी॰टी॰ई॰ को दिखाती है- “ये लीजिए भैया …”

करीना का टिकेट देखकर शकील जरा हैरान होता हुआ करीना को देखकर हँसता है।

शकील को ऐसे अपने ऊपर हँसता देखकर करीना बोलती है- “क्या हुआ?”

शकील- “आप दिखने में हाई-फ़ाई लगती हैं, फिर भी टिकेट स्लीपर क्लास, नो एसी क्लास का निकाला है आपने वाह… मुझे तो लगा था फर्स्ट क्लास ली होगी…”

करीना को ट्रेन के बारे में कुछ समझ नहीं थी, उसे स्लीपर क्लास, नो एसी और फर्स्ट क्लास के बारे में कुछ पता नहीं था, तो वो अपनी आँखें बड़ी करके शकील को कहती है- “तो क्या हुआ, फर्स्ट क्लास में ऐसा क्या होता है जो एसी स्लीपर एकानमी क्लास में नहीं होता?”

करीना के इस सवाल से शकील समझ जाता है कि करीना पहली बार सफ़र कर रही है तो वो जवाब में कहता है- “फर्स्ट क्लास में प्राइवेसी होती है, और पर्सनल एसी होता है, और स्लीपर क्लास नो-एसी क्लास में प्राइवेसी नहीं होती सब लोग आमने सामने ही बैठते हैं और सोते हैं, और एसी की सुविधा भी नहीं होती…”

करीना के नौकर रामू ने गलती से नासमझी में करीना को ट्रेन की एसी एकानमी क्लास की टिकेट आनलाइन बुक कर दी थी

करीना- “एवववव, मतलब मुझे प्राइवेसी नहीं मिलेगी? और एसी भी नहीं होगा, हे भगवान…”

गोगा मन ही मन- “चलो ये एक ठीक हुआ, के करीना ने अपनी बेवकूफी की वजह से एसी स्लीपर एकोनमी की टिकेट बुक की, नहीं तो मुझे लगा था कि ये फर्स्ट क्लास में और मैं स्लीपर क्लास नान एसी में रहूँगा…”

शकील शैतानी स्माइल देकर कहता है- “जी हाँ, अब आप नम्बर 8 बोगी में अपनी जगह के बुक किए नम्बर पर जाइए जो टिकेट पे है…”

करीना मन ही मन- “ये बेवकूफ़ रामू ने मुझे मेरे स्टेटस के मुताबिक ट्रेन के फर्स्ट क्लास की बुकिंग नहीं की, क्या मुशीबत है? प्राइवेसी भी नहीं होगी छीछी… अब पीछे भी नहीं हट सकती, मुझे उसी क्लास से सफ़र करना ही होगा, है भगवान्…”

और करीना गोगा के साथ नम्बर 8 बोगी की तरफ बढ़ ही रही थी कि शकील गोगा को बोला- “ओ भाईसाब, आप कहाँ जा रहे हैं मेमसाब के साथ? टिकेट तो दिखाईए?”

गोगा हड़बड़ाते हुये बोलता है- “साहब, वो क्या है कि मुझे मेडमजी का समान लेजाकर जहाँ मेडमजी बैठेंगी वहाँ रखूँगा, बहुत भारी है बैग…”

शकील- “हाँ ठीक है ठीक है, और ट्रेन निकलने से पहले बाहर आ जाना सामान रखकर…”

गोगा- “हाँ, ठीक है…” और गोगा उस बोगी की तरफ बढ़ता है।

करीना- “तुमने झूठ क्यों बोला शकील से?”

गोगा- “तो क्या उससे ये बोलता कि, मैं डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र करने वाला हूँ तेरे साथ, अब चुपचाप बैठ और चल…”

और शकील पीछे से करीना की मस्त मोटी गाण्ड को मटकते देखकर मन ही मन- “क्या मस्त गाण्ड है साली की, आज तो बड़ा अच्छा मौका मिला है एक हाई क्लास की औरत को टॉर्चर करने का, लेकिन कैसे करूँ? मौका तो है, क्योंकि ये साली नोन ए॰सी॰ स्लीपर में सफ़र करने वाली है, वो भी अकेले, लेकिन इस मौके का कैसे इस्तेमाल करूँ, अपनी हवस की भूख बुझाने के लिये?”


शकील एक 51 साल का आदमी था जिसकी उँचाई 5’7” है और वो कादी तगड़ा और बदसूरत है, उसके मुँह में हमेशा गुटखा रहता है, इस कारण उसके दाँत किसी दानव की तरह दिखते हैं, उसका पेट बाहर आया हुआ है, और नहाना पसंद नहीं है। अपने बदन की बदबू को छुपाने के लिये वो खुशुबूदार सेंट इस्तेमाल करता है, गांजे की लत से शकील की आँखें लाल ही रहती हैं, और कहीं भी चोदने का मौका मिले तो वो छोड़ता नहीं है, वो चुफ़ाई के वक़्त इतना वहशी हो जाता है कि, इसी वजह से उसकी पत्नी भी उसे छोड़कर भाग गई।

गोगा करीना का सामान और टिकेट लिये करीना के साथ 8 नम्बर की बोगी में चढ़ जाता है। वो करीना के टिकेट नम्बर वाली सीट ढूँढ रहा था, और करीना, गोगा के पीछे-पीछे पर्स हाथ में पकड़कर चल रही थी। नोन ए॰सी॰ वाली बोगी में ज़्यादातर गरीब और मध्य वर्ग के लोग ही सफ़र करते हैं। करीना को देखते ही कोई भी बोल सकता है कि वो हाई क्लास औरत है, क्योंकि उसने महुँगे सोने के गहने पहने थे, और सोने से ज़्यादा उसका गोरा कोमल बदन उसकी हाई क्लास लाइफ स्टाइल की गवाही दे रहा था।

अपने खूबसूरत चेहरे पर स्टाइलिश जरा सी पारदर्शी नक़ाब में तो करीना कोई राजकुमारी ही लग रही थी, और साथ ही पहनी हुई रेड साड़ी और स्लीवलेस ब्लाउज में करीना बेहद ही से्सी लग रही था, करीना की हर चाल पर मटकती गाण्ड देखकर उस बोगी में सफ़र करने वाले हर मर्द के लण्ड में हलचल हो रही थी। आज पहली

बार कोई खूबसूरत हाई क्लास औरत नोन ए॰सी॰ क्लास में सफ़र करने वाली है। और करीना जैसी से्सी मस्त गोरे बदन वाली औरत की उस बोगी में मौजूदगी से बोगी का माहौल कामुक और मस्त हो गया था।

गोगा करीना की सीट तक पहुँच जाता है, और फिर करीना की सीट के नीचे करीना का और अपना सामान रख देता है। वहाँ बैठा हर शख्स गोगा को करीना का नौकर ही समझ रहा था, क्योंकि गोगा की शकल थी ही ऐसी, उसने फटी पुरानी ब्लैक पैंट और ब्लैक चेक की मैली सी शर्ट पहना था। फिर करीना उस फ्लैट 3 फीट के बेंच पर बैठ जाती है, और गोगा खिड़की के बाजू में जो पींखा होता है उसे चालू करता है और खुद भी करीना के बाजू में बैठ जाता है।

करीना को इतने सारे लोगों के बीच में, वो भी उसके बदन को घूरते मर्दों के बीच बैठकर बहुत परेशानी महसूस हो रही थी। करीना जिस सीट पर बैठी थी उसी सीट के आगे वाली सीट पर 3 लोग बैठे हुये थे, और वो तीनों दिखने में ही डरावने और बेवड़े लग रहे थे, और सामने मस्त चिकना माल देखकर लार टपका रहे थे।

और वहाँ शरम से अपनी आँखें झुकाए नीचे देखकर करीना मन ही मन- “क्या मुशीबत है, कितने गंदे लोग हैं यहाँ, छीछी मुझे तो अभी से साँस लेना भी मुश्किल हो रहा है।

फिर करीना गोगा को बोलती है- “गोगा, तुम जरा यहाँ सरकोगे, मैं खिड़की के नज़दीक बैठना चाहती हूँ…”

गोगा उठ खड़ा होता है और करीना सरक के खिड़की के नज़दीक जाकर बैठ जाती हैं।

गोगा बेचारा फुल टेंशन में था क्योंकि वो डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र कर रहा था, मतलब विदाउट टिकेट सफ़र कर रहा था, जिससे वो अगर पकड़ा गया तो उससे जेल भी हो जाएगी, और उसका सारा खेल चौपट हो सकता है। उसके दिमाग में अब यही था कि ‘कब ट्रेन चालू होगी और कब वो करीना के साथ पटना पहुँचकर अपने प्लान को हकीकत में अंजाम देगा’

और वहाँ आगे जो 3 लोग बैठे हुये थे, वो करीना की मांसल जांघें और ना के बराबर साड़ी के पल्लू से ढकी हुई 36” की चुचियाँ देखकर गरम हो गये थे, उन तीनों की उम्र 34, 36, 40 साल है। उनमें से 34 साल वाला जो कि शादीशुदा है और उसका नाम संदेश है, उसके बाजू में बैठा हुआ समीर है जिसकी उम्र 36 साल है और वो भी शादीशुदा है और उसके बगल में 40 साल का अब्दुल एक नाकारा, हवस से भरा हुआ इंसान है जिसे सिर्फ़ पीना और रंडियों को ठोंकना ही आता है।

उन तीनों में से अब्दुल ही है, जो धरती पर बोझ है। समीर और संदेश तो अपनी जोब की इंटेरव्यू देने पटना जा रहे हैं, लेकिन ये अब्दुल तो सिर्फ़ उनके साथ टाइम पास करने जा रहा था, अब्दुल का शरीर काला भोंडा सा, और उसने तब सफेद कुर्ता पायजामा पहना हुआ है, और सिर पर मुस्लिम टोपी है। अब्दुल अपने सामने एक खूबसूरत औरत को देखकर अपने दोनों दोस्तों को धीमी आवाज में बोलता है- “यारों, क्या मस्त माल बैठा है सामने, दिल तो कर रहा है आज इस मस्त चूची वाली औरत के साथ कुछ ऐसा वैसा कर ही दूँ…”

ये सुनकर संदेश बोलता है- “आआऽ भाई तू कुछ भी ऐसा वैसा मत कर, हम दोनों का जाब के लिये इींटरव्यू है, कमीने…”

अब्दुल- “हाँ… हाँ, पता है दोस्तों, मैं तो मजाक कर रहा था…”

समीर- “हाँ… पता है तेरा मजाक, कमीने। क्लास में जब मैं था तब, मेरी गलडफ्रेंड को तूने मजाक-मजाक बोलते हुये चोदा था, अभी तक भूला नहीं हूँ, इसीलिये तुझे हम दोनों अपने घर नहीं बुलाते, क्योंकि क्या पता तू हमारी बीवियों को भी ठोंक दे…” और वो तीनों धीमी आवाज में हँसने लगते हैं।

10 मिनट बीत जाते है, और ट्रेन चालू हो जाती है। गोगा की धड़कनें भी बढ़ जाती हैं, क्योंकि वो डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र कर रहा था, और ट्रेन भी चालू हो चुकी थी।

अब्दुल जरा कन्फ्यूज था क्योंकि करीना के साथ एक एक्स्ट्रा आदमी था, और यहाँ सिर्फ़ 4 लोगों के सोने की जगह थी, करीना के आगे वाली सीट पर अब्दुल सोने वाला था, और करीना के सीट के ऊपर भी एक सीट थी जिस पर समीर सोने वाला था। अब्दुल के सीट के ऊपर भी एक सीट थी जिस पर संदेश सोने वाला था। वो ये सोच रहा था कि करीना के बाजू में जो आदमी, याने गोगा, कहाँ सोएगा? तो वो गोगा से इस बारे में पूछता है- “ओह्ह… सरजी, आप क्या मेडमजी के साथ हो?”

गोगा सामने वाले का सवाल सुनकर उसकी तरफ देखकर बोलता है- “हाँ, मैं मेडमजी का दूर का रिश्तेदार हूँ…”

अब्दुल मन ही मन- “साला, मैं तो समझा ये नौकर है मेडमजी का, बड़ी अजीब बात है कि ये इस खूबसूरत माल का रिश्तेदार है…”

अब्दुल- “ओह्ह… तो आपकी स्लीपर सीट कहाँ है?”

गोगा जरा डर जाता है, और गुस्से और हड़बड़ाते हुये बोलता है- “तुझे क्या करना है बे… तू अपना देख समझा, ज़्यादा सवाल मत कर…”

गोगा को ऐसे बोलता देखकर अब्दुल और उसके दोस्त समझ जाते हैं कि गोगा डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र कर रहा है। झट से समीर बोलता है- “तो क्या आप डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र कर रहे हो?”

ये सुनकर गोगा की फट जाती है और वो कुछ बोलता नहीं।

गोगा को ऐसे डरता देखकर करीना समीर की ओर देखकर बोलती है- “प्लीज़्ज़ि, आप किसी को बताइएगा नहीं कि ये गोगा विदाउट टिकेट सफ़र कर रहा है, प्लीज…”

कोयल जैसी आवाज सुनकर समीर करीना को पूछता है- “आपका नाम क्या है? और इतनी क्या इमरजेंसी आ गई कि तुम्हारा ये रिश्तेदार डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र करने के लिये मजबूर है?”

गोगा मन ही मन- “साले कमीने लोग, जी तो कर रहा है सालों को ट्रेन नीचे फैंक दूँ, मेरी तो इनकी वजह से वाट लगने वाली है…”
-  - 
Reply
11-30-2018, 01:19 AM,
#26
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
करीना अपने पहचान छुपाने के लिए झूठ बोलते हुये कहती है- “मेरा नाम सोनिया है, और ये मेरा रिश्तेदार जरा बीमार है, मेरा तो टिकेट मैंने निकाला, लेकिन इसका टिकेट निकालने से पहले ही सब टिकेट खतम हो गया, और आज ही इसे पटना के बड़े अस्पताल में भरती करवाना है…”

गोगा मन ही मन- “वाह मेरी बुलबुल, बड़े ही सफाई से झूठ बोल रही हो…”

अब्दुल करीना की बात टोकते हुये बोलता है- “तो क्या हुआ? कानून के मुताबिक, डब्ल्यू॰टी॰ से सफ़र करना बहुत बड़ा जुर्म है…”

तभी संदेश जो कि समीर के बाजू में बैठा था वो अब्दुल से बोलता है- “अरे अब्दुल मेडमजी मजबूर हैं, क्योंकि उनका रिश्तेदार बीमार है, उसे भरती करना है अस्पताल में, तो तू जरा अपनी जुबान बंद ही रख, जब टी॰टी॰ई॰ आएगा तो उनका वो देख लेंगे, समझा…”

समीर- “सही बोल रहे हो संदेश भाई, हम अब डब्ल्यू॰टी॰ की बात करना बंद करते हैं, जिससे कोई मुशीबत ना आए, मेडमजी पर…”

करीना ये सुनकर बोलती है- “आपका साथ देने के लिये थैंक यू सो मच…”

लेकिन अब्दुल के दिमाग में तो अब शैतानी विचार कूदाफान्दी कर रहे थे, क्योंकि सामने बैठी खूबसूरत औरत के खिलाफ उसे एक बड़ा हथियार मिल गया था, और उस हथियार को कैसा इस्तेमाल करे ये सोच रहा था…”

करीना और गोगा और सामने वो तीन लोग थे, और उन्हीं के कोच के सामने अपने-अपने सीट पर लोग बैठे हुये, और कुछ मर्द करीना को घूरे जा रहे थे, जिससे करीना जरा परेशान थी, और इस बात को समीर समझ गया तो वो उठा और उस छोटी सी स्लीपर कोच रूम को पर्दे से ढक दिया जिससे बाहर अपनी-अपनी जगह पर बैठे मर्द करीना के गोरे बदन को देख ना पाएीं, और करीना कंफर्टेबल फील करे, उनके साथ।

करीना जिस कोच में बैठी थी उस कोच को पर्दे से ढकता देखकर, बेबो समीर को देखकर स्माइल करती है।

अब्दुल मन ही मन- “मेरे दिमाग़ में इस मस्त गाण्ड वाली आइटम के साथ खेलने का प्लान है, लेकिन ये मेरे दो-दोस्त और ये सामने जो आदमी बैठा है, ये सब कबाब में हड्डी है…” कि तभी अब्दुल के दिमाग में ट्यूब जलती है, उसी के मुताबब्क वो अपने दोस्तों को बोलता है- “यारों चलो खंबा निकालकर एक-एक पेग मारते हैं, मैं अभी बोर हो रहा हूँ…”

समीर- “पागल है क्या? अभी नहीं, सामने मेडमजी बैठी है, उनके सामने नहीं…”

करीना समीर की बात सुनकर झट से बोलती- “मुझे कोई प्राब्लम नहीं… आपको जो करना है, वो कीजिए, आपने हमारी इतनी हेल्प की है, तो मुझे आपके एंजाय में हड्डी नहीं बनना…”

संदेश- “ये तो आपका बड़प्पन है मेडमजी…”

अब अब्दुल संदेश की बात काटते हुये बोलता है- “चलो अब मेडमजी को भी कोई प्राब्लम नहीं है। और हमारे साथ एक और साथी है पीने को…”

समीर- “कौन?”

अब्दुल- “ये मेडमजी का रिश्तेदार…”

और ये सुनते ही गोगा का चेहरा खुशी से खील उठा, क्योंकि वो भी इन तीनों की तरह बेवड़ा ही था। गोगा को तो करीना की सच्चाई मालूम थी के वो एक बोलीवुड स्टार है, लेकिन उसके सामने जो 3 लोग बैठे थे उन्हें नहीं पता था कि करीना एक सुपर स्टार है, करीना की पहचान, एक नक़ाब की वजह से छुपी हुई थी।

संदेश- “लेकिन वो तो बीमार है…”

गोगा संदेश की बात सुनकर झट से बोलता है- “अबे, डॉक्टर ने मुझे बीमारी के दर्द को सहने के लिये दारू पीने को कहा है, तो मुझे कोई प्राब्लम नहीं…”

ये सुनते ही वो तीनों दोस्त हँसने लगते हैं।

अब्दुल- “साला पहले तो चुपचाप बैठा था, अब देख दारू का नाम लेकर कैसा पोपट की तरह बोल रहा है। हाहाहा…”

और करीना भी अब्दुल की बात सुनकर हँसने लगती है, एक हाई-फ़ाई एक्ट्रेस 4 बेवड़ों के बीच बैठकर उनके जो्स पर हँस रही थी।

संदेश नीचे रखे बैग को निकालकर चार काँच के ग्लास और एक बैगपाइपर का खंबा निका लता है। और समीर काँच के ग्लासेस सीट के बाजू में एक जायींड ट्रे पर रख देता है, और अब्दुल बोलता है- “रुक समीर, मैं पेग बनाता हूँ…”
अब्दुल पहले सोडे की बोतल का ढक्कन खोलकर, सब ग्लास में थोड़ा-थोड़ा सोडा डालके फिर, दारू एक-एक करके डाल देता है, वो एक ग्लास में जरा सी दारू डालता है, और बाकी ग्लास में दारू ज़्यादा डालकार पेग स्ट्रॉंग बनाता है, और कम दारू वाला ग्लास अब्दुल ले लेता है, और बाकी सब स्ट्रॉंग पेग वाले ग्लास गोगा, समीर, और संदेश ले लेते हैं, और चीयर्स करके सब बातचीत करते-करते पेग पीने लगते हैं।

अब उन चारों का दारू का दूसरा पेग चल रहा है। दूसरे पेग की दो सिप लगाने के बाद, समीर गोगा को बोलता है- “अरे तुमने अपना नाम नहीं बताया, क्या है तेरा नाम?”

गोगा के 3 सिप हुये थअ, अब उसके ऊपर नशे का शुरूर चढ़ रहा था, वो बोलता है- “मेरा नाम लण्ड है लण्ड। तू बोल तेरा नाम क्या है?”

संदेश और अब्दुल हँसते हुये समीर की तरफ देखते हैं।

और करीना गोगा की बात सुनकर शरम से लाल हुये जा रही थी।

तभी समीर तीसरा सिप लगाते हुये बोलता है- “अबे साले, तेरा नाम अगर लण्ड है तो मेरा नाम चूत है…” और वो चारो हँसने लगते हैं।

चारों अब इतने नशे में थे कि वो ये भी भूल गये कि एक औरत बाजू में बैठी है, इसका भी लिहाज नहीं था, और वो औरत कोई आम औरत नहीं थी, वो तो एक बोलीवुड की सुपर स्टार है। लेकिन समीर, अब्दुल, संदेश इस बात से अंजान हैं।

करीना खिड़की के पास बैठी इन चारों की गंदी बातचीत को सुनकर मन ही मन- “कितने गंदे शब्द इस्तेमाल कर रहे है, ये लोग? अब इनकी भी क्या गलती है। क्योंकि मैंने सुना है कि, दारू पीने के बाद लोग अपने होश खो देते हैं, इस कारण ही ये ऐसे बात कर रहे हैं, मुझे इन्हें नज़रअंदाज करना चाहिए…”

तभी समीर ‘हलकट जवानी’ का गाना मोबाइल पे लगा देता है। और अब्दुल झट से बोलता है- “अबे ये इस गाने में वो नाचने वाली, मुझे पसंद है बहुत…”

करीना ये सुनकर जरा शरमा जाती है।

तभी गोगा बोलता है- “साले मुझे पता है, कि तुझे ये नाचनेवाली रंडी क्यों पसंद है?”

अब्दुल- “क्यों?”

गोगा- “क्योंकि उस साली के चूचे इतने बड़े-बड़े हैं कि तू, उसका दूध, हफ्तों तक पी सकता है दारू के साथ…”

अब्दुल ये सुनकर हँसने लगता है और बोलता है- “हाँ… एकदम सही बात बोली तूने, लण्ड…”

अपने ऊपर इस तरह का कामेंट सुनकर करीना की शरम गुस्से में बदल जाती है, और वो अपनी चुचियों को अपने पल्लू से ढकने लगती है। लेकिन पूरी तरह ढक नहीं पाती, क्योंकि चुचियाँ बड़ी-बड़ी थीं।

और वो चारों हलकट जवानी के गाने में नाचने वाली के बारे में बहुत अब्युसिब शब्द इस्तेमाल करते हुये 15 मिनट बात-चीत करते हैं।

इन चारों की बातचीत सुनकर आख़िरकार करीना अपने कान पर हाथ रखकर बंद कर ले ती है।

तभी पूरा खंबा खतम हो जाता है, गोगा, समीर, संदेश पूरे नशे में धुत्त थे, लेकिन अब्दुल जरा सा होश में था, तो वो संदेश और समीर को कहता है- “अरे सालों, अब तुम लोग आराम करने ऊपर की सीट पर जाओ, नहीं तो कुछ उल्टा सीधा कर बैठोगे…” और अब्दुल समीर को सहारा देकार सीढ़ी से ऊपर की सीट पर लेटा देता है, और वैसे ही संदेश को भी करीना के ऊपर की सीट पर लेटता है, और खुद भी अपनी करीना के सामने वाली सीट पर बैठकर करीना को देख रहा होता है।

गोगा तो पूरा टल्ली करीना के बाजू में सीट पर कोने का सहारा लेकर बैठे-बैठे ही सो गया था, और करीना बाहर खिड़की से देखकर कोच में चल रही हरकतों को नज़रअंदाज कर रही थी।

अब्दुल करीना की जांघों और चुचियों को देखकर बोलता है- “ओ मेडमजी, आप बोर तो नहीं हो गई?”

करीना अब्दुल की और देखकर बोलती है- “बोर तो हो गई हूँ… पर कर भी क्या सकते हैं?”

अब्दुल- “आप पिएंगी क्या?”

करीना गुस्से में बोलती है- “पागल हो क्या, तुमने ये मुझे पूछा भी कैसे?”

अब्दुल- “आप गलत समझ रही हैं, मेरे कहने का मतलब है आप कुछ जूस पिएंगी? मेरे पास आपल जूस है…”

करीना- “नहीं, मुझे नहीं चाहिए, मैं ऐसे ही ठीक हूँ…”

अब्दुल बैग में से आपल जूस की बोतल निकालता है और जबर्जस्ती करीना को वो बोतल पीने के लिये कहते हुये बोलता है- “लीजिए ना मेडमजी, प्लीज़्ज़ि, नहीं तो मैं बुरा मान जाऊँगा, दो सिप तो लगाइए, नहीं तो लोग कहेंगे कि अब्दुल को महेमान-नवाजी भी करनी नहीं आती…”

अब्दुल को ऐसे कहता देखकर करीना मजबूरी में वो आपल जूस की बोतल अपना नक़ाब जरा सा ऊपर करके अपने मुलायम होंठ खोलकर जूस पीने लगती है, और कहती है- “एवव कड़वा है बहुत, छीई…”

अब्दुल- “नया ब्रांड है मेडमजी आपल का, और एक बार लगाइए, फिर मीठा लगेगा…”

करीना जो पी रही थी, वो आपल जूस नहीं था, वो तो अब्दुल ने घर से आते वक़्त आपल जूस की बोतल में बची हुई शराब डाली थी, वो थी।

अब करीना दूसरा सिप लगाती है, पहली बार शराब पीने से करीना को बेहोशी छाने लगती है। ये देखकर अब्दुल करीना के हाथ से आपल की बोतल लेकर, खुद भी एक सिप लगाता है। फिर अब्दुल मन ही मन- “ये प्लान तो साला काम करेगा, अब ये तीनों तो 3-4 घंटे में होश में आ जाएँगे, और इससे पहले मैं इस मस्त आंटी का रसपान भी कर लूँगा…”

वही करीना भी दारू के दो सिप लगाने से होश में नहीं थी, और वो बोलती है- “मेरा सर, आह्ह… चकरा रहा है, आऽऽ…” और करीना खिड़की के पास कोने का सहारा लेकर अपनी आँखें बंद कर लेती है। एक हसीन बोलीवुड एक्ट्रेस, अकेली, पूरी बेसुध, एक बलात्कारी, हवस से भरे भेड़ियों से भरी ट्रेन की बोगी में थी।

अब्दुल अपनी आपल की बोतल फिर से नीचे बैग में रखकर अपने सीट से उठकर बेसुध सीट के कोने में बैठी करीना की ओर जाता है। अब्दुल के हाथ थर-थर काप रहे थे, क्योंकि वो पहली बार किसी खूबसूरत औरत के बदन के साथ अपनी हवस मिटाने के लिए खेलने वाला था।
-  - 
Reply
11-30-2018, 01:20 AM,
#27
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
अब्दुल करीना के बदन को देखकर अपना लण्ड मसलते हुये मन ही मन- “आज तो मजा आएगा इस खूबसूरत खिलोनेसे खेल कर, अगर मैंने और ज़्यादा देर कर दी तो ये तीनों, और ये रंडी भी होश में आ जाएगी, मुझे इससे पहले ही अपनी हवस मिटाने के लिये जो करना है वो करना होगा, नहीं तो मौका हाथ से चला जाएगा, ऐसा गदराया गोरा बदन मुझे फिर मिलेगा भी नहीं…” ये सोचते-सोचते अब्दुल अपनी सीट से उठ खड़ा होता है, और करीना और गोगा के बीच में बैठ जाता है।

अब अब्दुल अपने बदसूरत चेहरे को करीना के बदन के नज़दीक ले जाता है, और करीना के गोरे बदन से आने वाली इत्र की खुशबू से बावरा सा हो जाता है। उसने पहली बार किसी खुशुबूदार औरत के इतने नज़दीक से दीदार किए थे। तभी खिड़की से एक हवा के झोंके से करीना का पल्लू कंधे से निकल जाता है, और इससे करीना के दोनों बड़े-बड़े आम ब्लाउज में क़ैद अब्दुल के सामने एक्सपोज हो जाते हैं।

अब्दुल मन ही मन- “कितनी बड़ी-बड़ी चुचियाँ है इसकी, लगता है बहुत लोगों ने इसकी चुचियों का मजा लिया है, लेकिन जो मजा मैं लेने वाला हूँ, वो किसी ने अबतक इसकी चुचियों से लिया नहीं होगा…” ऐसा सोचते हुये अब्दुल करीना को गोद में उठाते हुये खड़ा हो जाता है, अपनी सीट पर लिटा देता है, और खड़े होकर करीना के गोरे-गोरे हरे-भरे बदन को ऐसे लेटा हुआ देखकर अब्दुल अपने मुँह से हवस की लार टपका रहा था। लेकिन वो अंजान था कि जिस औरत को अपनी हवस मिटाने के लिये वो इस्तेमाल करने वाला है, वो औरत एक बोलीवुड की फेमस सुपरस्टार, हर मर्द के दिल में धड़कने वाली करीना कपूर है।

लेकिन करीना की ये पहचान करीना के खूबसूरत चेहरे पर लगा नकाब छुपा रहा था, लेकिन पता नहीं कि अगर ये पहचान अब्दुल जान गया तो क्या होगा?

अब्दुल की आँखें करीना की बड़ी-बड़ी चुचियों पर टिकी थी, करीना की चुचियों पर पल्लू नहीं था, इस कारण करीना की 36डी की चुचियाँ अब्दुल के सामने रेड ब्लाउज में थीं। अब्दुल अपने दोनों हाथ करीना की दोनों चुचियों पर रखकर पहले तो धीरे-धीरे चुचियाँ दबाकर उसकी कोमलता को महसूस करता है। फिर अब्दुल मन ही मन- “ओह्ह… कितनी मुलायम हैं इस रंडी की चुचियाँ…”

और फिर प्यार से सहलाने की जगह अब्दुल करीना की दोनों चुचियाँ ब्लाउज के ऊपर से ही, अपने दोनों हाथों से किसी भोंपू की तरह दबा रहा था। अब्दुल के दिमाग पर अब हवस हावी हो रही थी। एक गंदी नाली का कीड़ा अंजाने में बोलीवुड स्टार के बड़े-बड़े चूचे बेदर्दी से दबा रहा था। तभी करीना के पास खड़ा अब्दुल नीचे झुक जाता है और अपना मुँह करीना की दाईं चूची के पास लाता है और ब्लाउज के ऊपर से ही करीना की चुचियाँ मुँह में ले लेता है, और काटने और चूसने लगता है, और दूसरे हाथ से करीना की बाईं चूची अपने दाएँ हाथ से बेदर्दी से दबा रहा होता है।

अगर करीना होश में होती तो दर्द से चीख रही होती, दाईं और बाईं चुचियाँ बारी-बारी ब्लाउज के ऊपर से ही दबाने और चूसने के बाद अब्दुल की हिम्मत और बढ़ जाती है, और वो करीना के ब्लाउज के हुक निकालता है, और आगे से पूरा खोल देता है। अब करीना के 36डी के दोनों बड़े-बड़े चूचे खुले ब्लाउज से रेड ब्रा में अब्दुल के सामने थे।

अब्दुल मन ही मन- “क्या मस्त पके हुये आम हैं साली के, ऐसे मस्त आम तो मैं अपने लाइफ में पहली बार देख रहा हूँ, कितना दूध होगा इन चुचियों में? मैं तो आज इस साली के दूध के टेंकर्स चूस-चूस के खाली कर दूँगा…” ये बोलते हुये अब्दुल करीना की ब्रा को जोश में आकार बिना सोचे एक हाथ से बीच से पकड़कर खींचता है, और जोर से ब्रा के मेटल हुक के टूटने की आवाज आती है, और ब्रा निकलकर अब्दुल के हाथ में आ जाती है।

अब तो करीन कपूर की चुचियाँ, आगे से खुले ब्लाउज से अब्दुल के सामने एक्सपोज थीं। ये नजारा देखकर अब्दुल का लण्ड पूरे साइज में खड़ा हो गया था, जिसकी साइज 12” इंच है। करीना की चुचियाँ अब पूरी तरह नंगी थीं, 36डी की ब्रा में क़ैद चूचे अब आज़ाद थे, और अब ब्रा के बिना करीना की चुचियाँ, पहले से ज़्यादा बड़ी लग रही थीं, पूरी 38” की।

करीना की गुलाबी चुचियाँ अब्दुल के काटने और दबाने से लाल थीं, और ये देखकर अब्दुल पगला जाता है, और वो अपने दोनों हाथों की उंगलियों से करीना के निपल्स पकड़ता है और खींचता है, जैसे कोई गाय का दूध निकालने के लिये करता है। करीना की गुलाबी चुचियाँ अब्दुल के दिए हुये दर्द से लाल-लाल थीं। अब्दुल फिर अपना मुँह करीना की चुचियों के पास लाता है, और बारी-बारी करीना की चुचियाँ सूँघता है। अब्दुल को दूध की सुगंध आ रही थी, और वो झट से करीना की दोनों चुचियाँ अपने दोनों हाथों से दबाता है।

करीना के निप्पल, और चुचियाँ इतनी बड़ी थी की अब्दुल के एक हाथ में पूरी चूची नहीं आ रही थी। तभी अब्दुल अपने एक मुँह में करीना का दाँया निप्पल पूरा अपने मुँह में ले लेता है, और बिदी से चूसने लगता है, जैसे माँ अपने बच्चे को दूध की बोतल से दूध पिलाने के लिए बोतल का निप्पल बच्चे के मुँह में लगाती है और बोतल पीछे से दबाती है जिससे दूध बोतल से निकलकर बच्चे के मुँह में जाता है, वैसे ही अब्दुल करीना की दाईं चूची अपने मुँह में लेकर चूस रहा था, और अपने हाथ से वही चूची पूरे जोर से दबाता है, और ऐसे ही 1-2 मिनट चूसने के बाद, करीना की चूची से दूध की बूंदे अब्दुल के मुँह में जाने लगती हैं।

अब्दुल चूसते-चूसते मन ही मन- “अबे माँ की आँख, इसकी चुचियाँ तो दूध छोड़ने लगी…” कहकर अब्दुल बेदर्दी से चुचियाँ पूरे जोर से दबाता है, तो करीना का दूध पहले से ज़्यादा निकलने लगता है। अब अब्दुल करीना का पूरा निप्पल मुँह में लेकर चूस रहा था।

अब्दुल की इस बेदर्दी से बेहोश करीना के मुँह से भी दर्द के कारण ‘आअह्ह’ की सिसकारियाँ निकलने लगती हैं। गुटखा, पान, तंबाकू खाने से अब्दुल के दाँत राक्षस की तरह थे तो जीभ भी खुरदरी थी, इस कारण करीना की मुलायम और साफ्ट चुचियाँ अब्दुल की चुसाई से लाल हो गई थीं।

अब्दुल बारी-बारी करीना की दोनों चुचियों से जी भरकार दूध चूसता, और चुचियाँ अपने दाँतों से काटता भी है। 15 मिनट तक चुचियाँ चूसने के बाद अब्दुल अपने मुँह से करीना की चुचियाँ आज़ाद करता है। तब करीना की चुचियों पर अब्दुल के काटने के निशान स्पष्ट रूप से दिख रहे थे। अब्दुल के टॉर्चर से करीना की चुचियाँ पूरी लाल-लाल हो गई थीं। फिर जो उसने करीना की चुचियों कौ चूस-चूस के और दाँत से काटकर जो हाल किया था, वो देखकर मन ही मन- “बेचारी की चुचियों का मैंने चूस-चूस के बुरा हाल कर दिया है, पूरी लाल हो गई है चुचियाँ। लेकिन मुझे तो बड़ा मजा आया दूध पीकर इस रंडी का। साली रंडी बीच-बीच में ‘आअह्ह’ की सिसकारियाँ भी ले रही थीं …”


फिर अब्दुल जोश में करीना की दोनों बड़ी-बड़ी 38” साइज की चुचियों पर जोर-जोर से थप्पड़ बरसाता है। थप्पड़ से हिलते चूचे देखकर अब्दुल का लण्ड अब पैंट से बाहर आने के लिये तड़प रहा था, लेकिन तभी अब्दुल की नजर करीना के रेड नकाब से ढके चेहरे पर जाती है। अब्दुल मन ही मन- “अब इस मस्त चुचियों की मालकिन का चेहरा भी मस्त ही होगा, जो ये रंडी नकाब से छिपा रही है…”

अब्दुल नकाब निकालने ही वाला था की, जानी पहचानी आवाज पर्दे से ढके कोच के दूसरी साइड से आती है, वो शकील है जो करीना और उसके साथ सफ़र कर रहे चार आदमियों के सामने वाली कोच में टिकेट चेक कर रहा था।

अब्दुल मन ही मन- “इसकी माँ की आँख ये टी॰टी॰ई॰ को भी अभी यहाँ टपकना था, अगर मुझे इस रंडी के साथ ऐसे देखा तो, वो समझे जायेगा कि मैं इसका रेप कर रहा हूँ…” ये बोलते हुये अब्दुल करीना के ब्लाउज को फिर से लगाने के लिये करीना के हुक आगे से लगाने की कोशिश करता है, लेकिन उसने करीना की ब्रा को फाड़ कर फेंका था, इस कारण करीना की चुचियाँ पूरी साइज में फूली हुई थीं, और ब्लाउज में जैसे-तैसे क़ैद हो रही थीं, फिर अब्दुल अपना जोर लगाकर ब्लाउज का हुक फिर से लगाता है, उसके बाद उसकी नजर सीट के नज़दीक गिरी ब्रा पर जाती है, जो उसने जोश में आकर फाड़ के करीना की चुचियाँ आज़ाद की थी। वो ब्रा अब्दुल चलती ट्रेन की खिड़की से बाहर फैंक देता है, और करीना को उठाकर फिर से गोगा के साइड में खिड़की के कोने का सहारा देकर बैठा देता है।

लेकिन अभी भी करीना के सिर से दारू उतरी नहीं थी, अभी भी वो बेहोश थी। अब्दुल अपने लण्ड पर पत्थर रखकर, मजबूरी में करीना से दूर जाकर अपनी सीट पर बैठ जाता है, और सोने की एक्टिंग करता है।
और 2-3 मिनट बाद शकील टिकेट चेक करते हुये करीना के कोच तक पहुँचता है। शकील मन ही मन- “यही स्लीपर कोच है जिस सीट का नम्बर उस मस्त हाई-फ़ाई औरत के पास था। आज तो साली के साथ फ्लर्ट करूँगा, जैसे फिल्मों में होता है, और मौका मिलने पर चौका भी मारूँगा…” ऐसे सोचते हुये टी॰टी॰ई॰ शकील परदा हटाते हुये कोच के अंदर जाता है, और सबको ऐसे सोता और दारू की सुगंध आती देखकर शकील को समझ आता है कि सब दारू पीकर लेट चुके हैं, और तभी उसकी नजर खिड़की का सहारा लेकर सो रही औरत पर जाता है, जो करीना है।
-  - 
Reply
11-30-2018, 01:20 AM,
#28
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
शकील मन ही मन- “कितनी मस्त खूबसूरत लग रही है ये, लचीली गोरी कमर, मोटी ताजी जांघें और दूध से भरी हुई चुचियाँ, ये देखकर ही मजा आ रहा है…”

तभी शकील की नजर गोगा पर जाती है जो डब्लू॰टी॰ से सफ़र कर रहा था। वो सोए हुये गोगा के पास जाता है, और उससे हिलाते हुये जगाने की कोशिश करता है, लेकिन वो दारू के नशे में था। इस कारण शकील जोर का तमाचा गोगा के गाल पर लगाता है।

गोगा आँख खोलने की कोशिश करता है लेकिन नशे के कारण वो अपनी आँखें खोल नहीं पाता, और ये देखकर शकील गोगा के गाल पर दूसरा तमाचा लगा देता है। इस बार दर्द की ‘आह्ह’ गोगा के मुँह से निकलती है, और वो आँखें खोलकर शकील को सामने देखकर उसकी आधी दारू उतर जाती है।

शकील- “अबे हरामजादे, तू तो बोला था कि समान रखकर तू ट्रेन से उतर जाएगा…”

गोगा पूरा का पूरा डर जाता है, उसकी बोलती पूरी तरह से बंद थी, क्योंकि उसे लग रहा था कि अब वो जेल जाएगा, और उसका सारा प्लान चौपट हो जाएगा। वो करीना की तरफ देखता है और करीना के कंधे को जोर-जोर से हिलाते हुये जगाने की कोशिश करता है।

शकील- “अबे कमीने, तू पहले मेरे सवाल का जवाब दे, मेडमजी को उठाकर तू बचने वाला नहीं है समझा?”

करीना को ना उठते देखकर गोगा शकील की ओर देखता है।

शकील- “देख क्या रहा है, गूंगा हो गया है क्या? बोल…”

गोगा- “साहब, माफ़ कर दो, मेडमजी ही बोली थी, उनकी हेल्प के लिये उनके साथ चलने के लिये…”

शकील- “तो क्या तू डब्लू॰टी॰ से सफ़र करेगा?”

गोगा का दिमाग दारू के नशे के कारण चल नहीं रहा था, वो जो मुँह में आता वो बोल रहा था- “साहब, आप मेडमजी को ही पूछिए कि मुझे, ऐसे सफ़र करने के लिये क्यों फोर्स किया था?”

ये सुनकर शकील गोगा को तीसरा थप्पड़ मारने ही वाला था कि, गोगा बेहोशी का नाटक करते हुये अपनी आँखें बंद कर लेता है।

शकील मन ही मन- “अब तो साला इस गोरी हिरनी के खिलाफ हथियार मिल चुका है, सिर्फ़ इस हथियार का सही तरीके से इस्तेमाल करना है, बस्स…”

फिर शकील गोगा के ऊपर से ध्यान हटाता है, और करीना को जगाने के लिये पहले उसको उठाने के लिये आवाज लगाता है, फिर भी ना उठती देखकर वो करीना के कंधे को पकड़कर हिलाते हुये बोलता है- “ऊओ मेमसाब उठिए, जल्दी उठिए, मुझे और भी काम है…”

करीना धीरे-धीरे अपनी आँखें खोलती है, दो पेग का नशा अब थोड़ा सा उतर गया था। करीना ने पहली बार दारू पी थी इस कारण ही सिर्फ़ दो पेग में ही उसने अपने होश खो दिए थे। करीना मन ही मन- “आह्ह… मेरा सिर, और मेरे निपल्स भी दुख रहे हैं, अह्ह…”

शकील- “ऊओ मेडमजी…”

करीना शकील को ऐसे सामने देखकर बोलती है- “क्या हुआ, आप यहाँ क्यों आए हो? मैं अब आराम करना चाहती हूँ, आप मुझे डिस्टर्ब मत कीजिए, गेट लास्ट…”

शकील- “ओह्ह… मेडमजी ये आपका घर नहीं है, जो आप मुझसे ऐसे बात कर रही हैं, ये सरकारी ट्रेन है, और मैं इस ट्रेन का टी॰टी॰ई॰ हूँ…”

करीना- “तो क्या हुआ, क्या प्राब्लम है? जो आप यहाँ आ गये…”

शकील- “आप जरा अपने साइड में देखिए, और मुझे बताइए कि आपका ये नौकर आपके साथ सफ़र क्यों कर रहा है?”

करीना- “वो मुझे सफ़र में मदद करने के लिए मेरे साथ आ गया तो, इसमें प्राब्लम क्या है?”

शकील- “प्राब्लम ये नहीं कि आपके साथ वो सफ़र कर रहा है, प्राब्लम ये है कि वो डब्लू॰टी॰ से सफ़र कर रहा है, जो गैरकानूनी है समझी आप…”

करीना मन ही मन- “हे भगवान, मैं तो भूल ही गई कि गोगा विदाउट टिकेट सफ़र कर रहा है, अगर मैंने इसका साथ दिया तो मैं भी फँस जाउन्गी…”

करीना- “मुझे तो पता ही नहीं कि ये डब्लू॰टी॰ सफ़र कर रहा है। आप इससे ही पूछिए…”

शकील- “2-3 झापड़ लगाकर इसे होश में लाया, और इससे मैंने पूछा के ‘तुम ट्रेन से उतरे क्यों नहीं?’ तो ये बोला कि ‘मेडमजी ने ही मुझे रोका हेल्प के लिये’ और मुँह खोलने के लिये जब झापड़ मारने ही वाला था के ये बेहोश हो गया है…”

करीना मन ही मन- “इस बेवकूफ़ को भी नहीं पता कि वो बेचारा मानसिक रूप से बीमार है, और अगर इस टी॰टी॰ई॰ ने इसे पुलिस के हवाले किया, तो मुझसे भी पूछताछ करने के लिये, थाने ले जाएँगे, और मेरा सफरोन में जो डान्स शो है वो भी केंसिल हो जायगा। हे भगवान्… अब मुझे ही यहाँ मामला रफ़ादफ़ा करना होगा, कैसे भी करके। मैंने न्यूज में भी देखा है कि लोग रिश्वत देकर इन मामलों से छूट जाते हैं…”

करीना- “आपने उसे मारा क्यों? मुझे जगाया होता तो मैं आपको समझा देती…”

शकील की नजर करीना की लटकती चुचियों पर थी जो बिना ब्रा की वजह से ऐसा लग रहा था कि अभी ब्लाउज फाड़ कर बाहर आ जाएँगी। शकील करीना की चुचियाँ देखकर बोलता है- “आप क्या समझाएगी मुझे? और एक बात आपको बताना मैं भूल गया कि आप भी इसके साथ जेल जाएँगी समझी?”

करीना- “मेरे पास टिकेट है ओके, और रही बात गोगा की तो हम दोनों ले-देकर मामला रफ़ादफ़ा कर सकते हैं…” कहकर करीना अपने पर्स की तरफ हाथ बढ़ाती है।

शकील समझ जाता है कि करीना रिश्वत की बात कर रही है। शकील स्माइल देते हुये कहता है- “हाँ, यहाँ तो नहीं ले सकता, आप टी॰टी॰ई॰ कोच में आ जाईए, मेरे पीछे-पीछे…” कहकर शकील करीना के कोच से बाहर आ जाता है, और करीना भी अपना पर्स लेकर शकील के पीछे-पीछे बाहर आ जाती है।

गोगा मन ही मन- “या अल्लाह बच गया, नहीं तो आज जेल जाना पक्का ही था, साली रंडी ने मुझे बचा लिया, लाख-लाख शुकर है…”
-  - 
Reply
11-30-2018, 01:20 AM,
#29
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
उधर शकील अपने कोच तक पहुँच जाता है, टी॰टी॰ई॰ स्लीपर कोच का किसी छोटे रूम की तरह लाक दरवाजा था, जो खोलकर शकील अंदर गया, और पीछे-पीछे करीना भी अंदर गई, उसके सामने एक बड़ा सा बेड था और एसी भी था, जिसकी ठंडक से करीना को अच्छा लगने लगा, 10 वर्ग फुट का रूम और उस रूम से लगकर ही प्राइवेट नहाने के लिये बाथरूम भी था। शकील करीना को बेड पर बैठने के लिये बोलता है, और करीना अपना पर्स अपने गोद में लेकर बैठ जाती है।

शकील- “आपको कुछ चाहिए, जूस, कॉफी?”

करीना- “नहीं, सिर्फ़ पानी दे दो…”

शकील ये सुनते ही करीना को ठंडे पानी की बोतल दे देता है। करीना बोतल खोलकर पानी पीकर वापस शकील को बोतल दे देती है, और बोलती है- “अब काम की बात करें?”

शकील करीना के गदराये गोरे जिस्म को देखकर टी॰टी॰ई॰ कोच के दरवाजे को लाक करते हुये करीना के बाजू में आकर बैठ जाता है।

शकील को ऐसे दरवाजा लाक करते देखकर करीना जरा डर जाती है और वो बोलती है- “आप लाक क्यों कर रहे हैं दरवाजा?”

शकील- “आप भी ना मेडमजी, हम दोनों में जो डील होने वाली है, अगर किसी ने देखीं तो मेरी नौकरी भी जा सकती है, इसलिए, समझी आप?”

करीना- “ओह्ह… ओके…”

शकील- “चलो अब काम की बात करते हैं, आप कितना दे सकती हैं?”

करीना- “आप बोलिये, लेकिन सोच समझकर…”

शकील- “फिर आप मुझे 10 हजार दीजिए अभी, मैं आपके साथी के सफ़र में अड़चन नहीं आने दूँगा…”

करीना सोच में पड़ जाती है- “मेरे पास तो सिर्फ़ 5 हजार कैश है, और सब पैसा तो बैंक में है…”

करीना- “ठीक है लेकिन मैं अभी सिर्फ़ 5 हजार ही दे सकती हूँ, बाकी का ए॰टी॰एम॰ से निकालकर दे दूँगी… ठीक है?”

शकील- “तो फिर पूरे ₹15000 देने होंगे, अगर नहीं दे सकती तो मैं आपकी मदद नहीं कर सकता…” और शकील अपने मुँह से तंबाकू खिड़की के बाहर थूकता है।

करीना के लिये ये रकम कोई बड़ी नहीं थी तो वो झट से बोलती है- “ठीक है…” और करीना 5000 रूपये अपने पर्स से निकालकर शकील को दे देती है।

शकील भी शैतानी स्माइल करते हुये पैसे ले लेता है, और जोर-जोर से हँसने लगता है।

शकील को ऐसे हँसते हुये देखकर करीना हैरान होते हुये बोलती है- “क्या हुआ? ऐसे हँस क्यों रहे हो? कोई परेशानी है क्या?”

शकील- “प्राब्लम तो अब तुझे होने वाली है रंडी…”

शकील के मुँह से निकला हुआ भद्दा शब्द करीना के गुस्से का पारा चढ़ा देता है और वो बोलती है- “जबान सभालकर बात करो, मैंने तुम्हें टिकेट की कीमत से ज़्यादा पैसे दिए हैं तो अपना मुँह बंद रखना समझे…”

शकील 5000 रूपये वापस करीना को देते हुये बोलता है- “जरा आप अपने सामने बायें कोने में तो देखिए…”

करीना को वहाँ एक सी॰सी॰टी॰वी॰ कैमरा दिखता है- “ये कैसा भद्दा मजाक है?”

शकील- “तेरा सारा रिश्वत देने का कांड उसमें रिकॉर्ड हुआ है, समझी, अब तुझे डब्लू॰टी॰ से सफ़र करने में शामिल होने के लिये अलग 4 साल की, और मुझे रिश्वत देने के जुर्म में अलग से 15 साल की सजा होगी और ये तय है समझी, अब तेरी जवानी जेल में कटेगी…”

शकील की बात सुनकर करीना पूरी हिल जाती है और उसकी आँखें मायूसी से भर जाती हैं और वो बोलती है- “ऐसा कैसा कर सकते हैं आप, प्लीज़्ज़ि ऐसा मत कीजिए…”

शकील मन ही मन- “अब मुर्गी जाल में फँस गई है, अब तो इसकी माँ की आँख करने वाला हूँ…”

दुनियाँ में हर रोज, हर मिनट औरतों से घटने वाली, बलात्कार, ब्लैकमेमलींग, छेड़छाड़, मोलेस्टेशन की वारदात जो सिर्फ़ आम औरतों के साथ होती है, लेकिन आज एक बोलीवुड स्टार इस तघनोनी वारदात का शिकार होने वाली थी।

शकील करीना की जांघों को अपने एक काले हाथ से सहलाते हुये बोलता है- “क्या बे रंडी, तू तो डर गई…”

करीना शकील के स्पर्श से गुस्सा हो जाती है और उठ खड़ी होती है और बोलती है- “तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मुझे छूने और ऐसे गंदे तरीके से बात करने की, मैं तुम्हारी शिकायत करूँगी पुलिस से…”

शकील हँसते हुये बोलता है- “उल्टा चोर कोतवाल को डाटे, हाहाहा… तुमने जो रिश्वत देने का जुर्म किया है वो सी॰सी॰टी॰वी॰ में क़ैद है समझी, मैं अभी पुलिस को फ़ोन करता हूँ, फिर इन्हीीं सबूतों से तुझे कम से कम 15-20 साल की सजा तो हो जाएगी…” और शकील मोबाइल उठाकर फ़ोन करने की एक्टिंग करता है।

शकील को फ़ोन करते देखकर करीना मन ही मन- “अब क्या करूँ? बुरी फँस गई हूँ मैं तो, इसके पास तो सबूत भी है, मा बचा लो, अगर ये सबूत पुलिस के हाथ लगा तो मुझे कोई बचा नहीं सकता, मुझे कुछ भी करके वो वीडियो डेलीट करना होगा, नहीं तो मैं सचमुच में जेल चली जाउन्गी, और मेरा फिल्म कैरियर डूब जाएगा…”

करीना आगे शकील की तरफ बढ़ती है, और उसके हाथ में से फ़ोन खींच लेती है, और फ़ोन देखती है तो किसी का भी फ़ोन डायल नहीं था।

शकील- “साली मैं तो मजाक में फ़ोन करने की एक्टिंग कर रहा था, हाहाहाहा… तेरे तो चेहरे का रंग ही उड़ गया है…”

करीना- “प्लीज वो सी॰सी॰टी॰वी॰ फुटेज डेलीट कीजिए, आपको जितना पैसा चाहिए मैं दूँगी…”

शकील- “मुझे पैसा नहीं चाहिए, मुझे तेरा गोरा गरम जिस्म चाहिए…” और शकील करीना का हाथ पकड़ता है और अपनी ओर खींचता है, फिर करीना को जबर्जस्ती शकील अपनी गोद में बैठा लेता है।

करीना शकील की पकड़ से छूटने की कोशिश करती है, लेकिन शकील ने बड़ी तगड़ी पकड़ से उसे पकड़ा था, इस कारण करीना छूट नहीं पाती। करीना गुस्से में- “ये क्या कर रहे हो? तुम मुझे नहीं जानते, मैं तुम्हारा इस हरकत के बदले क्या हालत कर सकती हूँ, छोड़ मुझे…”

शकील- “अपना मुँह बंद कर नहीं तो, पुलिस को बुलाकर तुझे जेल में पहुँचा दूँगा समझी, अगर तुझे कोई भी बचा सकता है तो वो सिर्फ़ मैं हूँ…”

करीना मन ही मन- “अब कैसे निकलूँ इस गंदी मुसीबत से, अगर मैंने विरोध किया तो ये कमीना मुझे पुलिस के हवाले कर देगा और मेरा कैरियर मिट्टी में मिल जाएगा। इससे अच्छा है कि मैं इस आदमी से प्यार से बात करके वो सी॰सी॰टी॰वी॰ फुटेज डेलीट कर दूँगी…”

करीना- “अगर मैं जेल में जाउन्गी तो आपको क्या अच्छा लगेगा?”

इस गंदी हरकत के बाद भी करीना को ऐसे प्यार से बात करता देखकर शकील बोला- “मैं कहाँ कह रहा हूँ कि तुझे जेल भेजकर मुझे अच्छा लगेगा? अगर तू मैं जो कहूँगा वो करेगी तो मैं तुझे पुलिस के हवाले नहीं करूँगा…”

करीना की लचीली गाण्ड जो शकील की गोद में थी, उसे कोई चीज नीचे से छू रही थी, करीना को समझ आ जाता है कि वो चीज शकील का लण्ड है, जो उसके पैंट के अंदर पूरा खड़ा हो गया है।

तभी शकील अपने दोनों हाथों से करीना की गोरी बेल्ली मतलब नाभि को सहलाते हुये बोलता है- “तेरा जिस्म तो किसी मस्त एक्ट्रेस जैसा है, कितना साफ्ट है…” और शकील करीना की गर्दन पर किस करने लगता है।

करीना को बहुत गंदा महसूस हो रहा था कि कोई सड़क छाप टी॰टी॰ई॰ उसके बदन को ऐसे चूम और छू रहा है, और शकील के मुँह से आती गुटखे की बू करीना का सिर चकरा रही थी। किसी गंदे आदमी की गोद में बैठने का अहसास करीना को गिल्टी महसूस करवा रहा था, लेकिन करीना मजबूर थी, क्योंकि शकील के पास करीना के खिलाफ ऐसा सबूत था जो उसे 15-20 साल के लिये जेल के अंदर करवा सकता था। लेकिन दूसरी तरफ शकील पागलों की तरह करीना की पीठ सूींघ रहा था, चाट रहा था, और चूम रहा था।
-  - 
Reply

11-30-2018, 01:20 AM,
#30
RE: Bollywood Sex Kahani करीना कपूर की पहली ट्रे...
करीना मजबूरी में प्यार से बोलती है- “आप क्या कर रहे हो? मुझे गुदगुदी हो रही है, छोड़िए ना, और वो फुटेज डेलीट कीजिए…”

शकील- “चुप कर साली, पहले काम तो होने दे, फिर डेलीट कर दूँगा…” और तभी वो नाभि को सहलाते-सहलाते अपने दोनों हाथ करीना की बड़ी-बड़ी चुचियों पर रख देता है।

करीना की ब्रा अंदर नहीं थी इसलिए, बेबो के निप्पल शकील को महसूस होते हैं, और किसी पराए मर्द के छूने के अहसास से करीना का दिल जोरों से धड़कने लगता है। उसे सैफ के साथ बिताये हुये हर लम्हे याद आते हैं, और इसलिए करीना की आँखों से आुँसू निकलने लगते हैं।

उधर शकील करीना के दोनों चूचे बेदर्दी से दबा रहा था। पहले ही अब्दुल ने करीना की बेहोशी का फ़ायदा उठाकर, करीना की चुचियों को टॉर्चर किया था, और आधे घंटे बाद ही यहाँ शकील करीना के चूचे बेदर्दी से दबा और निपल्स को अपनी उंगलियों से पकड़कर मसल रहा था।

इस दर्द सी करीना के मुँह से दर्द भरी आवाज निकलती है- “अह्ह, नहीं, दर्द हो रहा है, अह्ह…”

शकील- “साली तूने तो ब्रा पहना ही नहीं है, क्या मस्त माल है तू? एक नम्बर की रंडी लग रही है तू, क्योंकि बहुत लोगों ने तेरे ये बड़े-बड़े चूचे चूसे होंगे इसलिये आज इतने बड़े-बड़े हैं। हरामजादी, तुझे तो मैंने एक मेच्यूर हाई-फ़ाई औरत समझा था…”

करीना मन ही मन- “क्या ये सब मेरे साथ सच में हो रहा है, या मैं कोई गंदा सपना देख रही हूँ? मुझ जैसी बोलीवुड स्टार के साथ ऐसा कैसा हो सकता है? ये आदमी कोई और गंदी हरकत करे इससे पहले मुझे वो वीडियो डेलीट कर देना चाहिए। मैं इस आदमी से लड़ तो नहीं सकती, लेकिन मैं अपनी एक्टिंग का इस्तेमाल इसके खिलाफ तो कर ही सकती हूँ, जैसे मैंने गोगा के साथ इस्तेमाल किया, उसे कंट्रोल करने के लिये, लेकिन मुझे एक बात समझ में नहीं आ रही की मैंने ब्रा पहनी थी या नहीं? पहनी थी तो ऐसे गायब कहाँ हो गई? कुछ समझ नहीं आ रहा…”

करीना- “आप भी ना, बड़े मजाकिया हैं। इतने जोर से क्यों दबा रहे हो, बहुत दर्द हो रहा है…”
शकील मन ही मन- “अब साली लाइन पे आई है, अब इसके साथ मन भरके खेलूँगा, वो भी एक हाई-फ़ाई औरत के साथ, मुझे यकीन नहीं हो रहा…”

शकील- “चल अब मेरी गोद से उठकर मेरी तरफ पीठ करके खड़ी हो जा। मुझे तेरी मस्त मोटी गाण्ड को देखना है, जिसको तू मटका-मटका के चलती है…”

करीना मन ही मन- “क्या मुशीबत है, मुझे भी अब दीमाग से ही काम करना होगा, लेकिन इस आदमी की भाषा तो बहुत ही गंदी है। छीछी, लेकिन इसी के पास तो मेरे खिलाफ सबूत है जो मुझे मुशीबत में डाल सकते हैं। एक बार मेरे हाथ वो फुटेज लग जाए, फिर मैं उसे डेलीट कर दूँगी…”

तभी शकील करीना की नाभि को अपनी एक उंगली से मसलते हुये बोलता है- “क्या सोच रही हो? तेरे पास कोई चाय्स नहीं है समझी ना? मैं जो कहूँगा, वो तुझे करना ही होगा, नहीं तो जेल में चक्की पीसेगी…” और शकील करीना को धक्का देकर अपनी गोद से उठता है, और बेबो को अपनी तरफ पीठ करके खड़ी करता है, और खुद उसके पीछे खड़ा होकर उसकी मस्त गाण्ड को देख रहा होता है।

शकील मन ही मन- “आज तो सिर्फ़ देखूंगा ही नहीं, इस गाण्ड को ठोकुन्गा भी। इतना ठोकुन्गा कि साली ठीक से चल भी नहीं पाएगी। क्या मस्त मोटी गाण्ड की मालकिन है ये। लेकिन साली जरा सी बेवकूफ़ भी है, जिसने मेरे एक झूठ को सच मान लिया, हाहाहाहा… साला ये सी॰सी॰टी॰वी॰ तो बिगड़ा हुआ है, जो बहुत सालों से बंद है, और ये सिर्फ़ मुझे पता है, बेवकूफ़ रंडी…”

करीना- “प्लीज़्ज़ि… मुझे ऐसे ब्लैकमेल मत कीजिए…”

शकील पीछे से करीना की गाण्ड को और गोरी पीठ को देखकर अपना लण्ड मसल रहा था- “तू साली कितनी गोरी और किसी परी जैसी लगती है। बहुत खूबसूरत है तू…” और तभी शकील पीछे से करीना के नज़दीक जाता है, उसकी कमर पकड़ता है, फिर करीना को झट से पीछे अपनी ओर खींचता है, और करीना का नरम मुलायम पिछवाड़ा शकील के पैंट के अंदर तने हुये लण्ड से भींच जाता है।

करीना को शकील का लण्ड अपने पिछवाड़े साड़ी के ऊपर से महसूस हो रहा था। ये सब इतनी जल्दी हुआ कि करीना को कुछ समझ में ही नहीं आया।

शकील करीना की कमर को सहलाते-सहलाते करीना की जांघों पर दोनों हाथ लाता है, तो किसी पराए गरीब और गंदे मर्द के छूने के अहसास से करीना के गोरे बदन में गुदगुदी हो रही थी। और उधर शकील पीछे उसकी साड़ी के ऊपर से ही गाण्ड को अपने पैंट के अंदर तने हुये लण्ड से दबा रहा था, और नीचे से करीना की साड़ी जांघों को सहलाते-सहलाते ऊपर कर रहा था।

शकील- “तू बड़ी ही लाजवाब है रंडी। तेरी गाण्ड तो बिना नंगी हुये ही मजा दे रही है मेरे लण्ड को…” ऐसा बोलते हुये शकील करीना की साड़ी जांघों तक ऊपर करता है।

करीना अपने एक हाथ से पीछे से साड़ी को ऊपर कर रहे शकील का हाथ पकड़ती है और बोलती है- “ये आप क्या कर रहे हैं? प्लीज़्ज़ि… ज़्यादा ऊपर मत करिये साड़ी…”

शकील- “क्यों बे रंडी, अगर तू मुझे रोक रही है तो ओके… मैं पुलिस को फ़ोन करता हूँ, और तुझे उनके हवाले करता हूँ…”

करीना मन ही मन- “मेरे पास कोई चाय्स ही नहीं है। अगर रिश्वत देने के पहले ही मैंने वो सी॰सी॰टी॰वी॰ देखा होता तो, तो ये गंदा आदमी मेरे ऐसे नज़दीक ना होता। छीछी… और सब मर्द साले एक ही जैसे होते हैं, जहाँ खूबसूरत औरत दिखी, उसको देखकर राल टपकाते हैं। थैंक गोड कि मैंने नकाब पहना है। नहीं तो पता नहीं ये आदमी और क्या करता? मुझे अपना नकाब किसी भी हालत में उतरने देना नहीं चाहिए। इससे मेरी पहचान भी छुपेगी और इज्जत भी। अब सिर्फ़ मुझे इसका मन बहलाना है, और उसके साथ वो सब नहीं करना जो शादीशुदा जोड़े में होता है, और कोई रास्ता ऩही…” और करीना मजबूरी में शकील के दोनों हाथों को धीरे-धीरे छोड़ देती है।

शकील- “गुड गर्ल…” कहते हुये शकील करीना की साड़ी कमर तक ऊपर करके करीना को कहता है- “अबे साली रंडी ये साड़ी पकड़कर रख…”

मजबूरी में करीना अपनी साड़ी कमर पर पकड़कर रखती है। अब करीना का रेड पेटीकोट शकील के सामने था, वो करीना की गोरी पीठ को चाटने और चूमने लगता है, और नीचे से अपने दोनों हाथों से पेटीकोट के ऊपर से ही करीना की जांघें मसलते हुये अपने हाथ आगे करीना की चूत की तरफ सहलाते हुये ले जाता है। शकील तो पूरा सम्मोहित हो चुका था, क्योंकि पहली बार किसी मक्खन की तरह गोरी गिराए बदन वाली आइटम के बदन को वो ऐसे मसल रहा था, और सहला रहा था।

करीना ने तब अपनी आँखें बंद कर ली थी। फिर जब शकील का हाथ आगे करीना की जांघों को सहलाते, और मसलते हुये जब चूत के उभार पर लग जाता है, तो करीना छटपटाने लगती है, और उसके मुँह से सिसकारियाँ निकलने लगती हैं- “अह्ह… नहीं प्लीज़्ज़ि, वहाँ नहीं, अह्हह…”

शकील करीना की इस बात को अनदेखा करके करीना की चूत को पेटीकोट के ऊपर से ही सहलाने लगता है, और पीछे से करीना के पेटीकोट के ऊपर से ही उसके पिछवाड़े को अपने पैंट के अंदर तने हुये लण्ड से दबा रहा था। और आगे अपने दोनों हाथों से करीना की चूत को पेटीकोट के ऊपर से ही मसलने लगता है।

करीना शकील की इस हरकत से अपनी गाण्ड हिला रही थी। इससे शकील को भी मजा आ रहा था। तभी शकील करीना के पेटीकोट का नाड़ा खोल देता है, और रेड पेटीकोट करीना की कमर से निकलकर नीचे गिर जाता है। और अब शकील पूरी तरह से आउट ऑफ कंट्रोल हो चुका था। वो अब अपना एक हाथ ऊपर की ओर ले जाता है और करीना की चुचियाँ भोपु की तरह बारी-बारी बेदर्दी से दबाने लगता है, और नीचे दूसरे हाथ से करीना की चूत रेड पैंटी के ऊपर से ही मसलने लगता है।

करीना अब पहले से ज़्यादा परेशान थी, वो किसी ‘पानी बिन मछली’ की तरह छटपटा रही थी, एक फेमस बोलीवुड एक्ट्रेस एक सड़क छाप के हाथ लग गई थी। लेकिन शकील को ये पता नहीं था कि जिस औरत से वो ऐसी गंदी हरकतें कर रहा है, वो नकाब पहनी औरत असल में करीना कपूर है, जो बोलीवुड की फेमस एक्ट्रेस है। शकील तो करीना की चुचियाँ और चूत, मसलने में ही मस्त था। शकील पागलों की तरह करीना की चूत और चुचियाँ मसल रहा था।

शकील करीना के पिछवाड़े को अपने पैंट के अंदर तने हुये लण्ड से दबाते और आगे करीना की चूत और चुचियाँ दबाते, मसलते हुये बोलता है- “अह्ह… क्या मस्त लग रहा है तेरे बदन को छूकर। आज तो तेरा जी भरके रसपान करूँगा।

करीना- “अह्ह… प्लीज़्ज़ि… अह्ह वो वीडियो डेलीट कर ना, अह्ह… ******…”
-  - 
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star अन्तर्वासना - मोल की एक औरत 66 5,260 10 hours ago
Last Post:
  चूतो का समुंदर 663 2,212,966 07-01-2020, 11:59 PM
Last Post:
Star Maa Sex Kahani मॉम की परीक्षा में पास 131 58,039 06-29-2020, 05:17 PM
Last Post:
Star Hindi Porn Story खेल खेल में गंदी बात 34 26,521 06-28-2020, 02:20 PM
Last Post:
Star Free Sex kahani आशा...(एक ड्रीमलेडी ) 24 15,092 06-28-2020, 02:02 PM
Last Post:
Star Incest Porn Kahani चुदाई घर बार की 49 189,514 06-28-2020, 01:18 AM
Last Post:
Exclamation Maa Chudai Kahani आखिर मा चुद ही गई 39 298,447 06-27-2020, 12:19 AM
Last Post:
Star Incest Kahani परिवार(दि फैमिली) 662 2,289,017 06-27-2020, 12:13 AM
Last Post:
  Hindi Kamuk Kahani एक खून और 60 17,167 06-25-2020, 02:04 PM
Last Post:
  XXX Kahani Sarhad ke paar 76 65,469 06-25-2020, 11:45 AM
Last Post:



Users browsing this thread: 1 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


desi sex yoni me kapada kesedaleदेसी हिंदी राज शर्मा बड़े chuchi waali माँ बीटा हिंदी kaamuk सेक्स कहानीsasu ne holi me nanga kiya femily k samne sex ne chut mai rang dala sex storyएक लडकी पे गुंडोँ ने समूहिक Xxx Videoxxxz hot girl utowplayब्लाउज खोल चुची घुण्डी चुटकीShrenu Parikh nude saxbaba photomummy chut sexbabaWWW.ACTRESS.APARNA.DIXIT.FAKE.NUDE.SEX.PHOTOS.SEX.BABA.औरत को सुहागरात मे किसलिए डाला जाता है उसके पास कौन सी चिज रहती है जो उनको पेला जाता हैyesvrya ray ki ngi photo ke sath sex kahaniyatelugu thread anni kathaluxnxxtvserial. MERE. GAON. KI. NADI. RAJSHARMAsexbaba ramaya Krishnan chut photoअधखिली चूत का भोगTark mahetaka ulta chasm new actress sex baba.com desi nude forumTelugu anchors fakenudes sexbabaghar me aorton ki chudai ki khani unhi ki jubaniAmazing Indians sexbabaकुँवारी बुर की मूसल से कुटाईEgTBJSBFGKLnqfAFIhkA8aeDS8FT2HuuFsJmTBjGMKlTLt2EKNpDMgFyएक लडकी पे गुंडोँ ने समूहिक Xxx Videoxnxx maabete ke cohdsieबहेन ने साडी पहेनकर भाई को गाली देकर xxx Hindi story xxxind pyar aur romance bharpurChodai kerty huy khon nikelnaघर मे चोदवाने वाली लडकी का नंबर चहियेsexbaba sharuti mrathemastram antarva babतेल मालिश राज शर्मा सैक्स कहानियांactress rashi khana ki rape ki chudai storyBeta ne mammy ko loda chuswaya muhn mai muta mammy ki beta ne ghamasan chudai kiapne car drver se chudai krwai sex storesलडकी की गांड छुन्नी मेँ लडका लंड डालके चोदते हुए फोटोसदुहना स्तन लडकी का आदमी चुसते हुए Sexmaut chum meenakshi bhabhi xnxxbehn bhai bed ikathe razai sexकच्ची कली नॉनवेज कहानीdehati pron vedeo online chudai gawaro ki chidaixxx.Desi.mdoiesलवड़ा कैसे उगंली कैसे घुसायAr creation sex baba imagesSlwar Wale muslim techer ki gand xxx Vandana ki ghapa ghap chudai hd videoHd Aisewariya Rai ki All Nude Fucking Sexbabaहिंदी बहें ऑडियो फूकिंगmishti nuked image xxx Neha kakkar nude ass hol sexbaba photosVideos Xnxy जोबना चडी बाडी डाउनलोड चोलिये उतार हू लड़कियाँ Video nipple ko nukila kaise kareiEklota pariwar sex stories pregnant kahaniचाची ब्रा फाड कै दुध पिये और फिर गाँड मारीbibi ki chudai rand samjke kiहोठोपरचुभानकिसतरहलियाजाताहैचितरदिखाऐtamanna nude heroine bra e panty कैसे पहनती है video के साथ seachTanyaSharma nude fakeraja paraom aunty puck videsxx betene ma ki janrdasti gand mari video hdफिल्म कपड़ा का नंगे फोटो पूरे चूची दिखना चाहिए सनी लियोन कैटरीना कैफ ऐश्वर्या रायwww.fucker aushiria photoमाझे आजीला माझे बाबा ना झवताना पाहीले कहानीRandi Bhan ke karname part3 desikhani. netjungle me maa ki gand fadkar khun nikalne ki sex storiestvall heroin naagi sax babaBur.ka.pani.girti.dekhia.xxx.miको चोदा हिंदी सेक्स कहाणी राज शरमा sex babaSarkar ne kon kon si xxxi si wapsite bandkarihianxxxxpeshabkartiladkiSania mirza ki stan duhne wali ashlil storyचार देवरो ने अकेली साङी वाली भाभी को हाथ बाँधकर चोदा हिंदी सेक्सीsindur lagaya sexy Kahani sexbaba netNeelam actress ki chut mein land nangi photo Nirmit karne kiAmarekan.chut.dekhaiaBabji gadi modda kathaluरंडी के घर में पत्नी को रंडी ने पति के सामने निग्रो ग्राहक सा चुड़ै मस्तराम कॉम सेक्स स्टोरी हिन्दीdesi xxxghane ka khet walasexbaba.net/पहाड़ी पर मेरा पैर फिसल गयाbhabhiji ghar par hain dirty adult memes sex babaVirya pilata hai storywww.puja bose sexbaba naked pron photos hd. comgar me pucha lagane weli ki sexey video